scorecardresearch
 

Rahul Dravid: ‘मेरे को पता नहीं क्या है..’, जब रिपोर्टर ने राहुल द्रविड़ से पूछा- Bazball जानते हैं?

टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ ने एजबेस्टन में मिली करारी हार के बाद मीडिया से बात की. इसी दौरान राहुल द्रविड़ से बैज़बॉल को लेकर सवाल हुआ, जिसकी काफी चर्चा है.

X
Rahul Dravid Press Conference Rahul Dravid Press Conference
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एजबेस्टन टेस्ट में सात विकेट से हार गया भारत
  • इंग्लैंड की बैज़बॉल नीति ने भारत को दी मात

भारत और इंग्लैंड के बीच हुए एजबेस्टन टेस्ट मैच में टीम इंडिया को हार मिली. इस मैच के बाद जिस शब्द की चर्चा है, वो है Bazball. इंग्लैंड ने जिस तरह की क्रिकेट खेली है, उसे बैज़बॉल ही नाम दिया जा रहा है. अब इस बैज़बॉल को लेकर टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ से भी सवाल हुआ है, जिसपर उनका मज़ेदार जवाब आया.

एजबेस्टन टेस्ट में टीम इंडिया को मिली सात विकेट से हार के बाद जब राहुल द्रविड़ मीडिया से बात करने आए, तब उनसे पूछा गया कि क्या आपने बैज़बॉल के बारे में सुना है? ये सवाल सुन राहुल द्रविड़ हंस दिए. 

रिपोर्टर के सवाल पर राहुल द्रविड़ ने कहा कि मेरे को पता नहीं ये क्या है. लेकिन मैं इतना कहना चाहूंगा कि उन्होंने (इंग्लैंड) बेहतरीन क्रिकेट खेला और अंत में मैच जीत लिया. 


आखिर क्या है बैज़बॉल?

बता दें कि इंग्लैंड क्रिकेट टीम के टेस्ट कोच ब्रैंडन मैक्कुलम के आने के बाद से ही Bazball चर्चा में आया है. मैक्कुलम की अगुवाई में इंग्लैंड टीम एग्रेसिव क्रिकेट खेल रही है, पिछले चार टेस्ट मैच में ऐसा ही देखने को मिला है. जहां इंग्लैंड ने लगातार तीन टेस्ट में न्यूजीलैंड को मात दी और फिर एजबेस्टन में टीम इंडिया को हरा दिया.

इंग्लैंड के कप्तान बेन स्टोक्स हों या फिर पूर्व कप्तान जो रूट, दोनों ने ही इस बारे में खुलकर कह चुके हैं कि ब्रैंडन मैक्कुलम की नीति अग्रेसिव क्रिकेट खेलने की है और हम इसे ही एन्जॉय कर रहे हैं. और यही बैज़बॉल है. 

भारत इस टेस्ट मैच में मिली हार की वजह से इंग्लैंड में सीरीज़ जीतने से चूक गया. टीम इंडिया ने सीरीज़ 2-2 से ड्रॉ करवाई. एजबेस्टन में भारत ने पहली पारी में 416 का बड़ा स्कोर बनाया था, उसके बाद इंग्लैंड ने पहली पारी में 284 का स्कोर बनाया. लेकिन दूसरी पारी में चीज़ें पूरी तरह से बदल गईं. इंडिया 245 रनों पर ऑलआउट हुई और इंग्लैं को सिर्फ 378 रनों का टारगेट दिया. इंग्लैंड ने जो रूट और जॉनी बेयरस्टो के शतकों की बदौलत इस लक्ष्य को सिर्फ 77 ओवर में पा लिया. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें