scorecardresearch
 

PM Narendra Modi Birthday: पीएम नरेंद्र मोदी के बर्थडे पर आई शुभकामनाओं की बाढ़, सचिन-कोहली ने भी किया विश

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपना 72वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. इस मौके पर दुनिया भर से लोग उन्हें शुभकामनाएं भेज रहे है. खेल से जुड़ी हस्तियां भी पीएम मोदी को बधाई देने में पीछे नहीं है. सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, निकहत जरीन समेत कई मशहूर खिलाड़ियों ने पीएम मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं. नरेंद्र मोदी का जन्म साल 1950 में गुजरात के वडनगर में हुआ था और वह काफी संघर्षों के बाद इस मुकाम पर पहुंचे हैं.

X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विराट कोहली (फाइल फोटो)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विराट कोहली (फाइल फोटो)

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपना 72वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं. इस मौके पर दुनिया भर से उन्हें बधाई संदेश मिल रहे हैं. खेल से जुड़ी हस्तियां भी पीएम मोदी को बधाई देने में पीछे नहीं है. सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली, निकहत जरीन, युवराज सिंह समेत कई मशहूर खिलाड़ियों ने पीएम मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं.

महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने ट्वीट किया, 'हमारे माननीय प्रधान मंत्री जी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं. नरेंद्र मोदी जी! आपके उत्तम स्वास्थ्य एवं प्रसन्नता की कामना करता हूं.'

स्टार बल्लेबाज विराट कोहली ने लिखा, 'हमारे माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को जन्मदिन की बहुत-बहुत बधाई. मैं आपके खुशी और अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं.'

2001 में बने थे गुजरात के मुख्यमंत्री

युवराज सिंह ने ट्वीट किया, 'हमारे आदरणीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को जन्मदिन की बधाई. आपके अच्छे स्वास्थ्य और सफलता के लिए मेरी शुभकामनाएं हैं.'

भारत की स्टार मुक्केबाज निकहत जरीन और युवा बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं. दोनों खिलाड़ियों ने शुभकामना संदेश लिखने के साथ-साथ पीएम मोदी के साथ वाली तस्वीर भी शेयर कीं.

नरेंद्र मोदी का जन्म 17 सितंबर 1950 को गुजरात के वडनगर में हुआ था. पीएम मोदी का जीवन संघर्षों से भरा रहा है और वह बचपन में चाय भी बेचा करते थे. राजीनीति शास्त्र में एमए करने वाले नरेंद्र मोदी का बचपन से ही संघ की तरफ खासा झुकाव था. चूंकि गुजरात में आरएसएस का मजबूत आधार भी था. वे 1967 में 17 साल की उम्र में अहमदाबाद पहुंचे और उसी साल उन्होंने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सदस्यता ली. इसके बाद 1974 में वे नव निर्माण आंदोलन में शामिल हुए. इस तरह सक्रिय राजनीति में आने से पहले मोदी कई वर्षों तक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक रहे.

बाद में नरेंद्र मोदी को 1995 में भारतीय जनता पार्टी का राष्ट्रीय सचिव और पांच राज्यों का पार्टी प्रभारी बनाया गया. इसके बाद 1998 में उन्हें महासचिव (संगठन) बनाया गया. इस पद पर वो अक्‍टूबर 2001 तक रहे. फिर केशुभाई पटेल को मुख्यमंत्री पद से हटाने के बाद मोदी को गुजरात की कमान सौंपी गई. मुख्यमंत्री बनने के बाद 2002, 2007 और 2012 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी को जबरदस्त जीत मिली, जिसके बाद वह वह भाजपा की राष्ट्रीय राजनीति का सबसे प्रमुख चेहरा बनकर उभरे. 2014 और 2019 के लोकसभा चुनावों में मोदी के करिश्मे की बदौलत भाजपा ने पूर्ण बहुत हासिल किया. 2024 के चुनाव में भी मोदी ही बीजेपी का पीएम फेस होने की पूरी संभावना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें