scorecardresearch
 

संजू सैमसन का चुना जाना ऋषभ पंत के लिए खतरे की घंटी, इस दिग्गज ने चेताया

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने कहा कि विकेटकीपर ऋषभ पंत को टीम प्रबंधन ने जितना समय दिया है, उस दौरान उन्हें खरा उतरना होगा और अगर उन्होंने जल्द ही लय हासिल नहीं की तो संजू सैमसन उनकी जगह ले सकते हैं.

ऋषभ पंत (ट्विटर) ऋषभ पंत (ट्विटर)

  • ऋषभ पंत की जगह लेने के लिए तैयार खड़े हैं सैमसन
  • पंत प्रदर्शन करें या फिर बाहर होने के लिए तैयार रहें

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने कहा कि विकेटकीपर ऋषभ पंत को टीम प्रबंधन ने जितना समय दिया है, उस दौरान उन्हें खरा उतरना होगा और अगर उन्होंने जल्द ही लय हासिल नहीं की, तो संजू सैमसन उनकी जगह ले सकते हैं. लक्ष्मण ने कहा कि वेस्टइंडीज के खिलाफ तीन मैचों की टी-20 सीरीज की टीम में संजू सैमसन का चुना जाना पंत के लिए ‘कड़ा संदेश’ है कि प्रदर्शन करें या फिर टीम से बाहर होने के लिए तैयार रहें.

लक्ष्मण ने स्टार स्पोर्ट्स से कहा, ‘टीम प्रबंधन और चयन समिति ने सैमसन को टीम में शामिल कर कड़ा संदेश दिया है कि हमारे पास विकल्प मौजूद है. ऋषभ पंत को काफी मौके मिले हैं और मुझे यकीन है कि टीम प्रबंधन ने उससे बात की होगी.’ उन्होंने कहा, ‘खिलाड़ी को टीम प्रबंधन और चयन समिति के भरोसे को सही साबित करना होता है.’

पूर्व कलात्मक बल्लेबाज ने कहा, ‘दुर्भाग्य से पंत उस भरोसे पर खरे नहीं उतर रहे हैं, लेकिन उनके पास ‘एक्स’ फैक्टर है. मैं अब भी मानता हूं कि वह शानदार बल्लेबाज हैं, जो मैदान में आने के बाद बड़े शॉट खेलकर मैच का रुख मोड़ सकते हैं.’

अभी कुछ समय पहले तक पंत तीनों प्रारूपों में विकेटकीपर के तौर पर टीम की पहली पसंद थे, लेकिन खराब फॉर्म के कारण टेस्ट टीम में उनकी जगह अनुभवी ऋद्धिमान साहा ने ले ली. लक्ष्मण ने कहा, ‘एक बल्लेबाज के तौर पर वह उलझन में दिखते हैं, इसमें कोई संदेह नहीं है कि वह दबाव में हैं. आप ने कई बार देखा है, जब वह पूरे प्रवाह में खेलते हैं, तो स्पिनरों के खिलाफ उनकी एक अलग मानसिकता और तकनीक दिखती है. मुझे लगता है कि वह अंतिम-11 में अपनी जगह बनाए रखने के लिए काफी दबाव में होंगे.’

45 साल के इस पूर्व बल्लेबाज ने कहा कि अगले साल होने वाले टी-20 विश्व कप से पहले विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर सैमसन की जगह अब भी पंत ही पहली पसंद होंगे, लेकिन महेंद्र सिंह धोनी भी शायद तब तक वापसी कर लें . इंग्लैड में इस साल जुलाई में हुए विश्व कप के सेमीफाइनल में भारतीय टीम के बाहर होने के बाद से धोनी प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से दूर हैं.

दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश के बाद धोनी अब छह दिसंबर से वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरु हो रही सीमित ओवरों की सीरीज का भी हिस्सा नहीं होंगे. लक्ष्मण ने धोनी के भविष्य के बारे में कहा, ‘मुझे लगता है कि धोनी धैर्य के साथ पंत और सैमसन के प्रदर्शन को देखेंगे. मुझे लगता है आईपीएल के बाद उन्हें जब भी मौका मिलेगा, वह संन्यास के बारे में फैसला करेंगे, धोनी खुद को आईपीएल के लिए तैयार कर रहे हैं.'

लक्ष्मण ने कहा, 'मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि वह अच्छा करेंगे, जैसा उन्होंने पहले भी चेन्नई सुपर किंग्स का नेतृत्व करते हुए किया है.’ उन्होंने कहा, ‘यह दोनों युवा खिलाड़ी अगर मौकों को नहीं भुना पाए. तब शायद धोनी के बारे में सोचा जा सकता है. इसके लिए उन्हें विश्व कप से पहले आईपीएल में लय दिखानी होगी.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें