scorecardresearch
 

टीम इंडिया के खिलाफ न्यूजीलैंड स्पिनर्स से करेगा पारी की शुरुआत!

न्यूजीलैंड टीम अगले छह हफ्ते के लिए भारत में है और इस दौरान उन्हें तीन टेस्ट और पांच वनडे मैच खेलने हैं. दिल्ली के फिरोजशाह कोटला पर बुधवार को कीवी टीम ने दो घंटे के नेट सेशन के दौरान काफी गेंदबाजी की और इस दौरान मार्क क्रेग की नई बॉल से गेंदबाजी सबसे ध्यान देने वाली बात रही.

14 टेस्ट मैचों में 48 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह पकड़ा चुके हैं क्रेग 14 टेस्ट मैचों में 48 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह पकड़ा चुके हैं क्रेग

न्यूजीलैंड टीम मैनेजमेंट को अच्छी तरह पता है कि भारत में अगले छह हफ्ते में उन्हें किन चीजों का सामना करना पड़ सकता है और इसमें कोई हैरानी नहीं कि लेग स्पिनर ईश सोढ़ी, ऑर्थोडॉक्स ऑफ स्पिनर मार्क क्रेग और बाएं हाथ के स्पिनर मिशेल सेंटनर की स्पिन तिकड़ी ने दिल्ली के फिरोजशाह कोटला पर दो घंटे के नेट सेशन के दौरान काफी गेंदबाजी की. इस दौरान मार्क क्रेग की नई बॉल से गेंदबाजी सबसे ध्यान देने वाली बात रही. संकेत साफ है, भारतीय बल्लेबाजों की नकेल कसने के लिए न्यूजीलैंड क्रेग को नई गेंद थमा सकता है.

भारत आने के साथ ही न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन स्वीकार कर चुके हैं कि स्पिन अनुकूल पिचों पर भारतीय स्पिनरों का सामना करना कड़ी चुनौती होगी. ऐसे में कीवी बल्लेबाजों ने अपने ही स्पिनरों और नेट गेंदबाजों के खिलाफ बल्लेबाजी करने में काफी समय बिताया. नेट गेंदबाजों में भी धीमे गेंदबाजों के लिए दो अलग नेट बनाए गए थे. सेंटनर ने प्रैक्टिस सेशन के दूसरे घंटे के दौरान गेंदबाजी शुरू की जबकि सोढी और क्रेग ने स्पिनरों के नेट पर गेंदबाजी की.

सेंटनर, क्रेग और सोढ़ी ने फेंके लंबे स्पेल
क्रेग ने नेट पर बिलकुल नई ‘एसजी’ गेंद से गेंदबाजी की. तीनों स्पिनरों में सबसे अधिक समय तक सोढ़ी ने गेंदबाजी की. सेंटनर हालांकि जब गेंदबाजी के लिए आए तो उन्हें पुरानी गेंद सौंपी गई. स्पिनरों की अहमियत साफ तौर पर नजर आई जब कप्तान विलियमसन ने बैटिंग प्रैक्टिस पूरा करने के बाद ऑफ स्पिन गेंदबाजी की. न्यूजीलैंड के कप्तान के नाम 52 टेस्ट में 29 विकेट दर्ज हैं और अगर पिच से काफी स्पिन मिली तो उन्हें गेंदबाजी करते हुए देखना हैरानी भरा नहीं होगा.

रिवर्स स्विंग पर भी है नजर!
तेज गेंदबाजों में टिम साउथी और ट्रेंट बोल्ट ने भी प्रैक्टिस किया जबकि बाएं हाथ के तेज गेंदबाज नील वेगनर ने पुरानी गेंद पर हाथ आजमाए. इस दौरान कानपुर के ग्रीन पार्क की पिच को देखते हुए रिवर्स स्विंग पर भी जोर दिया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें