scorecardresearch
 

IND vs WI: गेंदों में ये बदलाव कर बुमराह बन गए खतरनाक, गेंदबाजी कोच ने किया खुलासा

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने कहा है कि टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की गति और एक्शन उन्हें खतरनाक गेंदबाज बनाती है. भारतीय टीम इस समय विंडीज दौरे पर है, जहां वो किंग्सटन में शुक्रवार से दूसरा टेस्ट मैच खेलेगी.

बुमराह (BCCI) बुमराह (BCCI)

  • दो टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत को 1-0 से बढ़त हासिल है
  • किंग्सटन टेस्ट भारतीय समयानुसार रात 8:00 बजे शुरू होगा

भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने कहा है कि टीम के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की गति और एक्शन उन्हें खतरनाक गेंदबाज बनाती है. भारतीय टीम इस समय विंडीज दौरे पर है, जहां वो किंग्सटन में शुक्रवार से दूसरा टेस्ट मैच खेलेगी. वेस्टइंडीज के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज में भारत को 1-0 से बढ़त हासिल है. यह टेस्ट भारतीय समयानुसार रात 8:00 से खेला जाएगा.

मैच से पहले भरत अरुण ने कहा, 'हम गेंदबाजी को क्रियान्वयन के लिहाज से देखते हैं, न कि परिणाम के. मैं कभी भी परिणाम की तरफ नहीं देखता. एंटीगा टेस्ट की पहली पारी के बाद भी जब हमने बात की थी, तो क्रियान्वयन के बारे में बात की. वह (बुमराह) थोड़ी छोटी गेंदें फेंक रहे थे, उन्हें गेंद को आगे डालने की जरूरत थी. विकेटों पर सवाल नहीं था. बुमराह इस बात को अच्छे से जानते हैं.'

बूम-बूम बुमराह ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड, जिसके लिए तरसता है हर गेंदबाज

उन्होंने कहा, 'बुमराह स्थिति को जानते हैं और वह बड़े शानदार तरीके से हर स्थिति के साथ ढल जाते हैं. अगर आप पहली पारी में डाली गेंदों की लेंथ और दूसरी पारी में डाली गई गेंदों की लेंथ देखेंगे, तो आपको काफी अंतर दिखेगा. वह दूसरी पारी में गेंद को आगे डाल रहे थे और इसलिए उन्हें मूवमेंट मिल रहा था.'

कोच से जब पूछा गया कि ऐसी क्या चीज है जो बुमराह को खतरनाक गेंदबाज बनाती है, तो उन्होंने कहा, 'वह लगातार 140 किमी की गति से गेंदबाजी करते हैं और उनका एक्शन भी थोड़ी अजीब है. इसलिए बल्लेबाज को उन्हें पकड़ने में परेशानी होती है. साथ ही वह काफी सटीक गेंदबाजी करते हैं.' उन्होंने कहा, 'बुमराह ने अपनी लेंथ बदली है और इसी ने उनकी गेंदबाजी को नए आयाम दिए हैं.'

अरुण ने साथ ही कप्तान विराट कोहली के खिलाड़ियों के काम के भार को नियंत्रित करने की बात का समर्थन किया है. अरुण ने कहा, 'तेज गेंदबाजी काफी मुश्किल चीज है. दुर्भाग्यवश इसमें गलती की संभावनाएं भी कम हैं. इस बात को जानते हुए हमने तेज गेंदबाजों का ख्याल रखना शुरू कर दिया है, ताकि उनके काम पर नजर रखी जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि गेंदबाज तरोताजा रहें.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें