scorecardresearch
 

खराब फील्डिंग बनी टीम इंडिया की मुसीबत, इंडीज बल्लेबाजों ने खूब की पिटाई

वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने टीम इंडिया की कमजोर गेंदबाजी और लचर फिल्डिंग का फायदा उठाते हुए 20 ओवरों में 207 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया.

India vs West Indies India vs West Indies

  • वेस्टइंडीज ने 207 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया
  • खराब फिल्डिंग टीम इंडिया की मुसीबत बन गई

हैदराबाद में खेले जा रहे पहले टी-20 मैच में खराब फिल्डिंग टीम इंडिया की मुसीबत बन गई. वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने टीम इंडिया की कमजोर गेंदबाजी और लचर फिल्डिंग का फायदा उठाते हुए 20 ओवरों में 207 रनों का चुनौतीपूर्ण स्कोर खड़ा किया.

पहले 10 ओवरों में ही वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने 101 रन बोर्ड पर लगा दिए, जिसके बाद वेस्टइंडीज के आने वाले बल्लेबाजों ने रन रेट को बनाए रखा और 207 रन बना दिए.

फील्डरों ने 4 कैच छोड़े

इस मैच में भारतीय फील्डरों ने 4 कैच छोड़ दिए और तीन गेंदबाजों ने 10 से ज्यादा की इकॉनमी से रन लुटाए. वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने सपाट पिच पर शुरू से आक्रामक तेवर अपनाये रखे. इविन लुईस ने 17 गेंदों पर 40 रन की तूफानी पारी खेली. ब्रेंडन किंग ने 31 रन का योगदान दिया जबकि हेटमेयर (56 रन) और कप्तान कीरोन पोलार्ड (37 रन) भी पूरे रंग में दिखे.

कैरेबियाई बल्लेबाजों को जीवनदान भी मिले जिसका उन्होंने पूरा फायदा उठाया. लक्ष्य का पीछा करने में भारत के अच्छे रिकॉर्ड और बाद में गेंदबाजी करते हुए ओस के प्रभाव को ध्यान में रखकर विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला किया.

दीपक चहर ने पारी के दूसरे ओवर में ही लेंडल सिमन्स को पहली स्लिप में रोहित शर्मा के हाथों कैच कराकर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई. भारत के खिलाफ इससे पहले दो शतक लगाने वाले लुईस आक्रामक मूड में दिख रहे थे.

गेंदबाजी का आगाज करने वाले वॉशिंगटन सुंदर का स्वागत उन्होंने चौके और छक्के से किया था. चहर ने अपने दूसरे ओवर में शॉर्ट पिच गेंद करने का खामियाजा भुगता तथा लुईस और किंग दोनों ने उन पर छक्के लगाये.

लुईस ने भुवनेश्वर कुमार का स्वागत भी छक्के से किया जिससे पांचवें ओवर में ही टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंच गया. सुंदर का छोर बदलकर गेंदबाजी के लिये आये और वह लुईस को चकमा देकर LBW आउट करने में सफल रहे जिन्होंने अपनी पारी में तीन चौके और चार छक्के लगाये.

किंग और हेटमेयर की ताबड़तोड़ बैटिंग

किंग और हेटमेयर ने हालांकि आक्रामकता बरकरार रखी. हेटमेयर ने कुछ गगनदायी छक्के लगाये. इनमें युजवेंद्र चहल की गुगली पर लगाया गया छक्का दर्शनीय था. जडेजा ने किंग को स्टंप आउट करवाकर भारत को तीसरी सफलता दिलाई. लेकिन अब पोलार्ड क्रीज पर थे जिन्होंने शिवम दुबे की मध्यम गति की शॉर्ट पिच गेंदों का पूरा लुत्फ उठाया.

हेटमेयर को भारतीय स्पिनर परेशान नहीं कर पाये. उन्होंने चहल पर छक्का जड़कर टी-20 अंतरराष्ट्रीय में अपना पहला अर्धशतक पूरा किया. इस बीच सुंदर ने दो बार उनके कैच भी छोड़े. रोहित ने भी पोलार्ड को जीवनदान दिया और गेंद छह रन के लिये चली गई. हालांकि इन दोनों की पारियों का अंत चहल ने ही किया जिन्होंने 36 रन देकर दो विकेट हासिल किये.

रोहित ने भी मौके चूकने की भरपाई करते हुए 18वें ओवर में डीप बैकवर्ड स्क्वायर पर हेटमेयर का कैच लपका. इसके बाद चहल ने पोलार्ड के लेग स्टंप उखाड़ दिये जिससे वेस्टइंडीज की 200 रन पार करने की उम्मीद भी कम दिख रही थी. लेकिन जेसन होल्डर ने 24 और दिनेश रामदीन ने 11 रन की नाबाद पारियां खेलकर टीम को 200 रन के पार कराया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें