scorecardresearch
 

आज दक्ष‍िण अफ्रीका के खि‍लाफ मैदान में उतरेंगे युवा भारतीय क्रिकेटर

टी20 और वनडे सीरीज में टीम इंडिया पर जीत के बाद शुक्रवार से बोर्ड प्रेसीडेंट XI के साथ शुरू हो रहे दो दिवसीय अभ्यास मैच के जरिए दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटरों को जहां टेस्ट सीरीज से पहले खुद को ढालने का अच्छा मौका मिलेगा, वहीं भारत के युवा क्रिकेटरों के पास भी बेहतरीन प्रदर्शन कर सेलेक्टर्स का ध्यान खींचने का मौका होगा.

टी20 और वनडे सीरीज में टीम इंडिया पर जीत के बाद शुक्रवार से बोर्ड प्रेसीडेंट XI के साथ शुरू हो रहे दो दिवसीय अभ्यास मैच के जरिए दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेटरों को जहां टेस्ट सीरीज से पहले खुद को ढालने का अच्छा मौका मिलेगा, वहीं भारत के युवा क्रिकेटरों के पास भी बेहतरीन प्रदर्शन कर सेलेक्टर्स का ध्यान खींचने का मौका होगा.

साथ ही ब्रेबोर्न स्टेडियम पर खेले जाने वाले इस मैच के जरिए टेस्ट टीम के सदस्य चेतेश्वर पुजारा और केएल राहुल को अभ्यास का मौका भी मिल जाएगा. पुजारा और राहुल टी20 और वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का हिस्सा नहीं थे. उन्हें दक्षिण अफ्रीका के बेहतरीन तेज गेंदबाजों के खिलाफ खुद को आजमाने का मौका मिलेगा.

चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मैच पांच नवंबर से शुरू होगा. इनके अलावा दिल्ली के सलामी बल्लेबाज उन्मुक्त चंद, कर्नाटक और मुंबई के मध्यक्रम के बल्लेबाज करुण नायर और श्रेयस अय्यर दमदार प्रदर्शन के जरिए चयनकर्ताओं का ध्यान आकर्षित करना चाहेंगे. विकेटकीपर नमन ओझा के लिए भी यह खुद को पहली पसंद रिद्धिमान साहा से बेहतर साबित करने का एक मौका है. गेंदबाजों में राजस्थान के युवा तेज गेंदबाज नाथु सिंह, मुंबई के शार्दुल ठाकुर और स्पिनर कर्ण शर्मा, जयंत यादव तथा कुलदीप यादव पर नजरें होंगी.

पारंपरिक लेग स्पिनर कर्ण शर्मा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण कर चुके हैं जबकि कुलदीप और जयंत को ऑफ स्पिन और बाएं हाथ की स्पिन के बैकअप के लिए टीम में रखा गया है. हरियाणा के ऑफ स्पिनर जयंत दक्षिण अफ्रीका और बांग्लादेश के खिलाफ भारत ‘ए’ के लिए खेल चुके हैं और उनका प्रदर्शन संतोषजनक रहा. जम्मू कश्मीर के स्पिनर परवेज रसूल फिलहाल टीम में नहीं है लिहाजा अच्छा प्रदर्शन करने पर जयंत को मौका मिल सकता है.

दूसरी ओर चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव पर भी चयनकर्ताओं की निगाहें होंगी. दक्षिण अफ्रीका ने टी20 और वनडे सीरीज के बाद ब्रेक का लुत्फ उठाया. यह मैच उनके लिए पांच दिवसीय प्रारूप के अनुरूप खुद को ढालने का एकमात्र मौका है. टीम के अधिकांश सदस्य टी20 और वनडे टीम में भी थे लिहाजा खुद को यहां के हालात के अनुरूप ढाल चुके हैं.

तेज गेंदबाज वर्नन फिलेंडर और विकेटकीपर डेन विलास सीमित ओवरों की टीम में नहीं थे जिनके लिए यह मैच भारतीय पिचों के अनुकूल ढलने का एकमात्र मौका है. दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट कप्तान हाशिम अमला अभी तक चिर परिचित फाॅर्म में नहीं दिखे हैं. वह क्रीज पर अधिक समय बिताकर खोया फाॅर्म लौटाना चाहेंगे. तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्कल और मध्यक्रम के बल्लेबाज जेपी डुमिनी चोट के कारण आखिरी दो वनडे नहीं खेल सके थे. इस मैच से उनकी फिटनेस का भी आकलन हो जाएगा.

टीमें:
बोर्ड अध्यक्ष एकादश: चेतेश्वर पुजारा (कप्तान), केएल राहुल, उन्मुक्त चंद, करुण नायर, श्रेयस अय्यर, नमन ओझा, हार्दिक पंड्या, जयंत यादव, कुलदीप यादव, शार्दुल ठाकुर, नाथू सिंह, कर्ण सिंह, शेल्डन जैकसन.

दक्षिण अफ्रीका: हाशिम अमला (कप्तान), एबी डिविलियर्स, तेंबा बावुमा, जेपी डुमिनी, फाफ डु प्लेसिस, डीन एल्गर, सिमोन हार्मर, इमरान ताहिर, मोर्ने मोर्कल, वर्नन फिलैंडर, डेन पीट, कागिसो रबाडा, डेल स्टेन, स्टियान वान जिल, डेन विलास.

इनपुट: भाषा

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें