scorecardresearch
 

Bhuvneshwar Kumar: अकेले मैच विनर कैसे बन पाएंगे भुवनेश्वर कुमार? कहीं वर्ल्ड कप में न पड़ जाए लेने के देने 

भारतीय तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार एशिया कप और उसके बाद अब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में भी फीके नजर आए हैं. उन्होंने डेथ ओवर्स में जमकर रन लुटाए हैं. इन मैचों पर गौर किया जाए, तो पता चलता है कि इस दौरान उनके साथी और स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह उनके साथ नहीं थे...

X
Bhuvneshwar kumar (Twitter)
Bhuvneshwar kumar (Twitter)

Bhuvneshwar Kumar: टीम इंडिया के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार भारतीय बॉलिंग लाइन-अप का अहम हिस्सा हैं. उन्होंने टीम इंडिया को कई मैच जिताए हैं, लेकिन पिछले कुछ समय से वह काफी महंगे साबित हो रहे हैं. उनकी कई कमियां उजागर हुई हैं.

भुवी को अगले महीने होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में सेलेक्ट किया गया है. मगर इससे पहले ही भुवी की डेथ ओवर्स में रन लुटाने और अकेले के दम पर मैच विनर बनने की कमियां उजागर हुई हैं. ऐसे में डर सताने लगा है कि कहीं उनकी कमियां वर्ल्ड कप में भारतीय टीम को भारी ना पड़ जाएं.

बुमराह के सपोर्ट के बगैर भुवी दबाव में आ जाते हैं?

बता दें कि भुवनेश्वर कुमार एशिया कप और उसके बाद अब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में भी फीके नजर आए हैं. उन्होंने डेथ ओवर्स में जमकर रन लुटाए हैं. इन मैचों पर गौर किया जाए, तो पता चलता है कि इस दौरान उनके साथी और स्टार गेंदबाज जसप्रीत बुमराह उनके साथ नहीं थे. बुमराह चोट के कारण एशिया कप से बाहर रहे थे. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उन्होंने पहला मैच भी नहीं खेला था.

बड़ी टीमों के खिलाफ खुद को साबित करें भुवी

अब उम्मीद है कि दूसरे मैच में बुमराह को खिलाया जा सकता है. बुमराह जब एक छोर से विपक्षी टीम को दबाव में लाते हैं, तो इसका फायदा कहीं ना कहीं दूसरे गेंदबाज भुवी को भी मिलता है. भुवी इसी सपोर्ट को लेकर बल्लेबाज पर हावी होते हैं और भारतीय टीम के लिए मैच विनर साबित होते हैं. किसी वजह से यदि बुमराह को वर्ल्ड कप के किसी मैच में बाहर बैठना पड़ा, तब ऐसे में देखना होगा कि कहीं यह कमी टीम पर भारी ना पड़ जाए.

यदि ऐसा नहीं है और बगैर बुमराह के भी भुवी अकेले के दम पर मैच जिता सकते हैं, तो यह बात भुवी को साबित भी करना होगा. हालांकि यह बात बड़ी टीमों के खिलाफ साबित करना होगा, क्योंकि एशिया कप में भुवी ने कमजोर अफगानिस्तान के खिलाफ भी 5 विकेट लिए थे.

डेथ ओवर्स में बेहद महंगे साबित हो रहे भुवी

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए पहले टी20 मैच में टीम इंडिया 208 रन का बड़ा स्कोर बनाकर भी मैच हार गई. मैच में बड़ी गलती ये रही कि लक्ष्य को बचाते हुए भुवनेश्वर कुमार से 19वां ओवर करवाया.

पिछले कुछ दिनों में यह तीसरा मौका था, जब टीम इंडिया के लिए भुवनेश्वर कुमार ने 19वां ओवर फेंका और भारत की हार उसी ओवर ने तय कर दी. पहले एशिया कप में पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ ऐसा हुआ, अब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मोहाली में यही देखने को मिला. 

भुवी ने इन तीन मैचों में 19वां ओवर किया और मैच हार गए

  • ऑस्ट्रेलिया को आखिरी 2 ओवर में जब 18 रन की जरूरत थी, तब भुवी को 19वां ओवर दिया गया और उन्होंने यहां 16 रन लुटवा दिए. बस इसी ओवर ने भारत की हार तय कर दी.
  • भारत इस बार एशिया कप के सुपर-4 से आगे नहीं बढ़ पाया था, यहां टीम इंडिया ने पाकिस्तान और श्रीलंका से लगातार मैच गंवाए. इन दोनों हार में भी भुवनेश्वर कुमार का 19वां ओवर ही विलेन साबित हुआ था. पाकिस्तान को जब आखिरी 2 ओवर में 26 रनों की जरूरत थी, तब भुवनेश्वर ने 19वें ओवर में 19 रन दे दिए थे और मैच एक तरह से वहीं खत्म हो गया था.
  • इसी तरह श्रीलंका को जब आखिरी 2 ओवर में 21 रन चाहिए थे, तब भुवनेश्वर ने 19वां ओवर डाला. इसमें उन्होंने 14 रन दे दिए थे और फिर एक बार टीम इंडिया के लिए वापसी करना मुश्किल हो गया था. एशिया कप के इन दोनों मैच में 20वां ओवर अर्शदीप सिंह ने डाला और वह रन नहीं बचा पाए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें