scorecardresearch
 

Virat Kohli vs BCCI: 'विराट कोहली को सभी ने सपोर्ट किया, पता नहीं वह क्या बोल रहे', सपोर्ट वाले बयान पर बीसीसीआई अधिकारी

विराट कोहली ने पिछला मैच एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ रविवार को ही खेला, जिसमें उन्होंने 44 बॉल पर 60 रनों की पारी खेली. मैच के बाद कोहली ने कहा था कि जब उन्होंने टेस्ट की कप्तानी छोड़ी थी, तब धोनी के अलावा किसी ने उन्हें मैसेज तक नहीं किया था. अब इस बयान पर बीसीसीआई अधिकारी ने जवाब दिया है...

X
Virat Kohli (Getty)
Virat Kohli (Getty)

Virat Kohli vs BCCI: पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली इन दिनों एशिया कप 2022 सीजन में खेल रहे हैं. यहां उन्होंने अपने शुरुआती तीनों मैचों में दमदार प्रदर्शन किया और अपनी पुरानी खोई हुई लय वापस हासिल कर ली है. कोहली ने हाल ही में एक बयान देकर हंगामा मचा दिया है.

दरअसल, कोहली ने पिछला मैच पाकिस्तान के खिलाफ रविवार को ही खेला, जिसमें उन्होंने 44 बॉल पर 60 रनों की पारी खेली. कोहली की यह लगातार दूसरी फिफ्टी रही. मैच के बाद कोहली ने इमोशनल होते हुए कहा था कि जब उन्होंने टेस्ट की कप्तानी छोड़ी थी, तब महेंद्र सिंह धोनी के अलावा किसी ने उन्हें मैसेज तक नहीं किया था.

अब कोहली के इसी बयान पर हंगामा मचा हुआ है. पूर्व दिग्गज क्रिकेटर समेत अधिकारी भी अपना पक्ष रखते दिख रहे हैं. इसी कड़ी में बीसीसीआई के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि कोहली का सभी ने सपोर्ट किया. वह किस बारे में क्या बोल रहे हैं पता नहीं. 

'जब उन्हें चाहिए था, तब ब्रेक दिया गया'

बीसीसीआई अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट से कहा, 'विराट को सभी से सपोर्ट मिला है. बीसीसीआई से लेकर उनके साथी खिलाड़ियों तक ने सपोर्ट किया. उन्होंने कहा है कि उन्हें सपोर्ट नहीं मिला, यह बात गलत है. जब उन्हें चाहिए था, तब ब्रेक दिया गया. जब उन्होंने टेस्ट की कप्तानी छोड़ी थी, तब बीसीसीआई के अधिकारियों ने तक सोशल मीडिया पर उन्हें शुभकामनाएं दी थीं. इसलिए मैं नहीं जानता हूं कि वह किस बारे में और क्या बोल रहे हैं.'

'हमारी इच्छा है कि वह लगातार रन बनाते रहें'

अधिकारी ने कहा, 'कोहली और बीसीसीआई के बीच कोई मतभेद नहीं हैं. उन्होंने जो भारतीय क्रिकेट में योगदान दिया है, उसके लिए सभी उनका सम्मान करते हैं. तीनों फॉर्मेट में वह बेहतरीन और अहम खिलाड़ी हैं. एकदम सही समय पर उनकी फॉर्म वापस आई है. हमारी इच्छा है कि वह लगातार रन बनाते रहें. यह ऑस्ट्रेलिया (टी20 वर्ल्ड कप) में टीम के लिए अच्छा होगा.'

क्या कहा था विराट कोहली ने?

पाकिस्तान के खिलाफ मैच में के बाद रविवार को कोहली ने कहा था, 'जब मैंने टेस्ट की कप्तानी छोड़ी, तब सिर्फ एक व्यक्ति का मैसेज आया, वह महेंद्र सिंह धोनी थे. कई लोगों के पास मेरे नंबर हैं. टीवी पर भी कई लोग सुझाव देते हैं. पर जिनके पास मेरे नंबर हैं, उनमें किसी का मैसेज नहीं आया. जब किसी के साथ कोई कनेक्शन होता है और वह सच्चा होता है, तो वह इस तरह से दिखता है. दोनों तरफ से सिक्योरिटी होती है. ना मुझे उनसे कुछ चाहिए और ना उन्हें मुझसे कुछ चाहिए.

'लोग दुनिया के सामने सुझाव देते हैं, पर्सनल नहीं'

आलोचकों को जवाब देते हुए कोहली ने कहा था, 'अगर मुझे किसी को कुछ बोलना है, तो मैं उसे व्यक्तिगत बोलूंगा, यदि मदद भी करनी है तब भी. यदि आप दुनिया के सामने सुझाव देते हैं, तो वह मेरे किस काम का. यदि आपको मेरे काम की कोई बात बतानी है या सुझाव देना है, तो मुझे पर्सनली दे सकते हैं. मैं अपनी लाइफ ईमानदारी से जीता हूं, इसलिए मुझे यह चीजें दिखती हैं. मैं ऐसा भी नहीं बोलूंगा कि मुझे फर्क नहीं पड़ता. मैं अपनी पूरी मेहनत करता हूं, देने वाला ऊपर वाला है. मैं जब तक खेलूंगा ऐसे ही खेलूंगा.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें