scorecardresearch
 

IND vs PAK Asia Cup 2022: भारत-PAK की सुपर-4 में 'महाजंग' आज, एशिया कप के आंकड़ों में कौन किस पर भारी?

भारत और पाकिस्तान क्रिकेट के मैदान पर एक बार फिर से आमने-सामने होने जा रहे हैं. दोनों टीमों के बीच यह ब्लॉकबस्टर मुकाबला रविवार (4 सितंबर) को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में होना है. एशिया कप के इतिहास में पाकिस्तान के खिलाफ हुए ज्यादातर मैचों में भारतीय टीम का पलड़ा भारी रहा है. ग्रुप-स्टेज के मैच में भी भारत ने पाकिस्तान को पांच विकेट से पराजित किया था.

X
बाबर आजम और रोहित शर्मा (AFP)
बाबर आजम और रोहित शर्मा (AFP)

एशिया कप 2022 में भारत और पाकिस्तान के बीच एक बार फिर से मुकाबला होने जा रहा है. रविवार (4 सितंबर) को दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में होने वाले मुकाबले पर पूरी दुनिया की नजरें टिकी हैं. इस हाईवोल्टेज मुकाबले में टीम इंडिया की कप्तानी रोहित शर्मा के हाथों में होगी. वहीं बाबर आजम पाकिस्तानी टीम की बागडोर संभालने जा रहे हैं. भारत ने पाकिस्तान को पिछले रविवार को ही पांच विकेट से हराया था, ऐसे में उसके हौसले काफी बुलंद हैं.

वैसे एशिया कप के इतिहास को देखा जाए तो भारतीय टीम अपने पड़ोसी मुल्क पर भारी पड़ती आई है. एशिया कप में भारत और पाकिस्तान के बीच कुल 15 मुकाबले हुए हैं जिसमें भारतीय टीम को 9 मैचों में जीत मिली है. वहीं पाकिस्तान टीम ने पांच मुकाबले जीते और एक मैच का कोई नतीजा नहीं निकला था. इस मुकाबले में भारतीय फैन्स अपनी टीम से जीत की उम्मीद रख रहे हैं.

जडेजा की खल सकती है कमी

इस  मुकाबले में भारत को रवींद्र जडेजा की कमी खलेगी जो चोटिल होने के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं. उनकी जगह अक्षर पटेल को टीम में लिया गया है. पाकिस्तान के खिलाफ पिछले मैच में मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने दाएं और बाएं हाथ के बल्लेबाज का कॉम्बिनेशन बनाने के लिए जडेजा को चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजा था क्योंकि उस मैच में ऋषभ पंत को बाहर रखा गया था.

क्लिक करें- पाकिस्तान के खिलाफ प्लेइंग-11 में बदलाव पक्का, रवींद्र जडेजा हुए बाहर, अब किसे मिलेगा मौका?

यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या कप्तान रोहित शर्मा और द्रविड़ रविवार को भी ऐसा दांव खेलते हैं. अगर टॉप-6 बल्लेबाजों में बाएं हाथ के किसी बल्लेबाज को शामिल करना है तो केवल पंत ही इसके लिए विकल्प हैं. वो हार्दिक पंड्या थे जिनके ऑलराउंड प्रदर्शन से भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ आखिरी ओवर में रोमांचक जीत दर्ज की थी. रोहित इस मैच में भी अपने दूसरे खिलाड़ियों से उसी तरह के प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे होंगे.

एशिया कप में भारत-PAK मैचों के नतीजे:
1984: भारत की 84 रनों से जीत, शारजाह
1988: भारत 4 विकेट से जीता, ढाका
1995: पाकिस्तान की 97 रनों से जीत, शारजाह
1997: नो रिजल्ट, कोलंबो
2000: पाकिस्तान की 44 रनों से जीत, ढाका
2004: पाकिस्तान 59 रनों से जीता, कोलंबो
2008: भारत 6 विकेट से जीता, कराची
2008: पाकिस्तान की 8 विकेट से जीत, कराची

क्लिक करें- T20 वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया को बड़ा झटका! 3 महीने तक नहीं खेल पाएंगे जडेजा

2010: टीम इंडिया की 3 विकेट से जीत, दांबुला
2012: भारत 6 विकेट से जीता, मीरपुर
2014:पाकिस्तान की 1 विकेट से जीत, मीरपुर
2016: भारत 5 विकेट से विजयी, मीरपुर
2018: भारत 8 विकेट से जीता, दुबई
2018:भारत 9 विकेट से जीता, दुबई
2022: भारत की 5 विकेट से जीत, दुबई

भारत को करनी होगी ताबड़तोड़ शुरुआत

भारतीय टीम के बल्लेबाजों का पावर-प्ले में रक्षात्मक रवैया परेशानी का सबब बन रहा है. हॉन्ग कॉन्ग जैसी कमजोर टीम के खिलाफ शुरुआत में भारतीय टीम ने धीमी बल्लेबाजी की थी लेकिन वह सूर्यकुमार यादव की बेहतरीन पारी थी जिससे टीम बड़ा स्कोर बनाने में सफल रही. भारतीय शीर्ष क्रम के धीमे खेल का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि केएल राहुल ने 39 गेंदों पर 36 रन बनाए थे. ऐसे में सवाल उठता है क्या भारत ओपनिंग कॉम्बिनेशन में बदलाव करेगा.

राहुल की फॉर्म चिंता का सबब

राहुल ने पाकिस्तान के खिलाफ पिछले मैच में नसीम शाह की जिस पहली गेंद का सामना किया था उसी पर वह बोल्ड हो गए थे. उन्हें एक और मौका दिया जाना जरूरी है लेकिन उन्हें अपने प्लेइंग स्टाइल में बदलाव करने की जरूरत होगी. पाकिस्तान के बल्लेबाजों को भी पहले 10 ओवर में अधिक रन बनाने की जरूरत है. मोहम्मद रिजवान और बाबर आजम को लक्ष्य का पीछा करते हुए अच्छी सफलताएं मिली हैं लेकिन जब पहले बल्लेबाजी की बात आती है तो वे फ्लॉप होते आए हैं.

अश्विन को मिल सकता है मौका

इसके अलावा दुबई की पिच धीमा खेल रही है जिससे कि बल्लेबाजों के लिए परेशानी पैदा हो सकती है. भारत के सामने एक और सवाल है कि क्या आवेश खान को अंतिम एकादश में जगह मिलेगी या नहीं. आवेश खान हॉन्ग कॉन्ग के खिलाफ मुकबाले में काफी महंगे साबित हुए थे. पाकिस्तान के शीर्ष क्रम के छह बल्लेबाजों में दो बाएं हाथ के बल्लेबाज फखर जमां और खुशदिल शाह हैं. ऐसे में ऑफ स्पिनर अश्विन को रखना अच्छा विकल्प हो सकता है.

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, दीपक हुड्डा, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, अक्षर पटेल, आर अश्विन, युजवेंद्र चहल, रवि बिश्नोई, भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह, आवेश खान.

पाकिस्तान: बाबर आजम (कप्तान), शादाब खान, आसिफ अली, फखर जमान, हैदर अली, हारिस रऊफ, इफ्तिखार अहमद, खुशदिल शाह, मोहम्मद नवाज, मोहम्मद रिजवान, नसीम शाह, उस्मान कादिर, मोहम्मद हसनैन, हसन अली.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें