scorecardresearch
 

रविवार को धरती के करीब से गुजरेगा, 50 मंजिला इमारत के आकार का एस्टेरॉयड

NASA के मुताबिक एक विशालकाय एस्टेरॉयड 17 जुलाई को पृथ्वी के बेहद करीब से गुजरने वाला है. 50 मंजिला ऊंची इमारत के आकार का यह एस्टेरॉयड, तेज रफ्तार राइफल की गोली से लगभग आठ गुना तेजी से चल रहा है.

X
17 जुलाई को बेहद तेज गति से पृथ्वी के करीब आएगा एस्टेरॉयड (Photo: Pixabay ) 17 जुलाई को बेहद तेज गति से पृथ्वी के करीब आएगा एस्टेरॉयड (Photo: Pixabay )
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इस एस्टेरॉयड का नाम है 2022 KY4
  • पिछली बार 1950 में पृथ्वी के करीब आया था

50-मंजिला ऊंची इमारत के आकार का एक एस्टेरॉयड (Asteroid), रविवार (17 जुलाई) को पृथ्वी के बेहद करीब से होकर गुजरेगा. 100 साल बाद, यह एस्टेरॉयड हमारे ग्रह के सबसे करीब होगा.

नासा(NASA) के मुताबिक, अंतरिक्ष की यह चट्टान 2022 KY4, पृथ्वी से लगभग 16 लाख किलोमीटर दूर है. या यूं समझिए कि पृथ्वी और चंद्रमा के बीच की औसत दूरी के 16 गुना से भी ज्यादा है. यह एस्टेरॉयड 2022 NF की तुलना में काफी दूर है, जो 7 जुलाई को पृथ्वी के 90,000 किमी अंदर तक आया था. 

asteroid
Asteroid 2022 KY4 पिछली बार 1950 में पृथ्वी के करीब आया था (Photo: Getty)

नासा के मुताबिक, Asteroid 2022 KY4 का व्यास करीब 290 फीट है और अनुमान है कि यह 27,000 किमी/घंटे की रफ्तार से चल रहा है. दूसरे शब्दों में कहें, तो यह एक तेज रफ्तार राइफल की गोली से लगभग आठ गुना तेजी से चल रहा है.

यह एस्टेरॉयड पहले भी कई बार पृथ्वी के काफी करीब पहुंचा है. पिछली बार यह 1959 में और उससे पहले 1948 में पृथ्वी के करीब आया था. लेकिन रविवार के बाद, ये मई 2048 से पहले हमारे ग्रह के आसपास भी नहीं दिखेगा. 

नासा और अन्य अंतरिक्ष एजेंसियां ​​इस तरह के हजारों नीयर अर्थ ऑब्जेक्ट्स (Near-Earth objects) की बारीकी से निगरानी करते हैं. एक एस्टेरॉयड की ट्रैजेक्टरी इसे हमारे ग्रह से लाखों मील दूर रखती है और इसलिए इस बात की बहुत कम संभावना होती है कि एस्टेरॉयड की ऑर्बिट, किसी ग्रह के गुरुत्वाकर्षण की वजह से अपनी जगह से थोड़ा खिसक जाए.

 

अंतरिक्ष एजेंसियां ​​इस बात को बहुत गंभीरता से लेती हैं. नवंबर 2021 में, नासा ने एस्टेरॉयड को विक्षेपित करने के लिए, डबल एस्टेरॉयड रीडायरेक्शन टेस्ट (Double Asteroid Redirection Test-DART) नाम का स्पेसक्राफ्ट लॉन्च किया था.यह  2022 की सर्दियों में 525-फुट-चौड़े एस्टेरॉयड से सीधे टकराएगा. इस टक्कर से एस्टेरॉयड नष्ट नहीं होगा, बल्कि इससे इस एस्टेरॉयड की ऑर्बिट थोड़ी बदल सकती है. इस मिशन से यह पता लगेगा कि अगर आने वाले समय में कोई एस्टेरॉयड हमारे ग्रह के लिए खतरा पैदा करे, तो एस्टेरॉयड का विक्षेपण कितना सफल हो सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें