scorecardresearch
 

James Webb Space Telescope ने खोजी सबसे पुरानी गैलेक्सी!

James Webb Space Telescope ने दो नई गैलेक्सियों की खोज की है, जिनके बारे में कहा जा रहा है कि ये अब तक कि सबसे पुरानी और सबसे दूरस्थ गैलेक्सी हो सकती हैं.

X
Webb Space Telescope ने खोजीं सबसे पुरानी आकाशगंगा (Photo: NASA) Webb Space Telescope ने खोजीं सबसे पुरानी आकाशगंगा (Photo: NASA)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ये गैलैक्सी हैं- GLASS-z11 और GLASS-z13
  • हो सकती हैं सबसे प्राचीन गैलेक्सी

हाल ही में, अंतरिक्ष की अनोखी तस्वीरें दुनिया के सामने रखने वाला JWST (James Webb Space Telescope), कुछ न कुछ नया खोज रहा है. हाल ही में जो जानकारी सामने आ रही है उनमें कहा जा सकता है कि इस टलिस्कोप ने अब तक की सबसे दूर की आकाशगंगा (Galaxy) या कह सकते हैं कि सबसे पुरानी गैलेक्सी की खोज की है. 

JWST के शुरुआती प्रोग्राम है Grism Lens-Amplified Survey from Space(GLASS). ग्लास के जरिए खगोलविद गैलेक्सी क्लस्टर एबेल 2744 (Abell 2744) की छानबीन कर रहे हैं, जो इतना विशाल है कि इसका गुरुत्वाकर्षण इसके चारों ओर के स्पेस को खराब कर रहा है. ग्लास, इसके पीछे दूर की गैलेक्सियों को सामने लाने के लिए ग्रैविटेशनल लेंस की तरह काम कर रहा है.

galaxy
मिल सकती हैं और भी प्राचीन गैलेक्सियां (Photo: AFP)

GLASS ने दो गैलैक्सी खोजी हैं- जिन्हें GLASS-z11 और GLASS-z13 कहा जा रहा है. GLASS-z13 का प्रकाश Big Bang के 30 करोड़ साल बाद भी आ रहा है. इसका मतलब है कि यह गैलेक्सी पृथ्वी से 33 अरब प्रकाश-वर्ष दूर है. वहीं, GLASS-z11 को भी खोजा गया है. इसका प्रकाश बिग बैंग के 42 करोड़ साल बाद आ रहा है.

अभी तक Gn-z11 गैलेक्सी को सबसे दूर माना जाता था, लेकिन इसके बाद HD1 ने अपनी दावेदारी पेश की. और अब इन दोनों गैलेक्सी से पता चलता है कि वहां और भी ज्यादा गैलैक्सियां हो सकती हैं जो बहुत जल्दी सितारों का निर्माण करती हैं. टीम ने यह भी कहा है कि इन नतीजों की जांच करनी होगी, क्योंकि JWST बिल्कुल नया टेलिस्कोप है, इसलिए अनिश्चितताएं हो सकती हैं. लेकिन सौभाग्य से, JWST इन वस्तुओं की दूरी को किसी अन्य विधि से जांचने के लिए सुसज्जित है.

 

अगर इन गैलेक्सियों की की पुष्टि हो जाती है, तो यह मान लिया जाएगा कि JWST वहां और भी प्राचीन गैलेक्सियों को खोज सकता है. एक पेपर में इस खोज से जुड़े नतीजों के बारे में बताया गया है, जिसे द एस्ट्रोफिजिकल जर्नल लेटर्स (The Astrophysical Journal Letters) में सबमिट किया गया है. इसपर पियर रिव्यू होना बाकी है. पेपर को ArXiv पर देखा जा सकता है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें