scorecardresearch
 

चीन को आया Alien सभ्यता का संदेश, पहले रिपोर्ट पब्लिश की फिर डिलीट कर दिया

China Picked Up Alien Signal: चीन के वैज्ञानिकों को एलियन दुनिया का संदेश आया. उन्होंने रिपोर्ट बनाई. उसे पब्लिश किया फिर डिलीट कर दिया. ये काम चीन के विज्ञान मंत्रालय ने किया था. ये संदेश उन्हें दुनिया के सबसे बडे़ रेडियो टेलिस्कोप FAST के जरिए मिला था.

X
China Picked Up Alien Signal: ये है FAST टेलिस्कोप, जिसने एलियन सभ्यता का संदेश आया है. (फोटोः गेटी)
China Picked Up Alien Signal: ये है FAST टेलिस्कोप, जिसने एलियन सभ्यता का संदेश आया है. (फोटोः गेटी)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • नैरो-बैंड का रेडियो सिग्नल मिला था
  • दो साल में तीन बार मिला है संदेश

चीन के वैज्ञानिकों को एलियन सभ्यता (Alien Civilization) का संदेश मिला. संदेश दुनिया के सबसे बड़े रेडियो टेलिस्कोप FAST यानी स्काई आई (Sky Eye) के जरिए मिला था. यह टेलिस्कोप गुईझोउ प्रांत में के दक्षिण-पश्चिम इलाके में मौजूद है. इस टेलिस्कोप का व्यास 1600 फीट है. इस टेलिस्कोप का प्रमुख काम एक्स्ट्रा-टेरेस्ट्रियल इंटेलिजेंस वाले जीवों और सभ्यताओं को खोजना है. 

हैरान करने वाली बात ये है कि चीन के विज्ञान मंत्रालय ने पहले FAST टेलिस्कोप को मिली नैरो-बैंड इलेक्ट्रोमैग्नेटिक सिग्नल (Narrow-Band Electromagnetic Signals) की रिपोर्ट पब्लिश की, फिर डिलीट कर दी. यह जानकारी चीन के सरकारी मीडिया संस्थान साइंस एंड टेक्नोलॉजी डेली ने दी. 

चीन के विज्ञान मंत्रालय ने पहले रिपोर्ट जारी की, उसके बाद डिलीट कर दिया. (फोटोः डैनिएला रियलपे/पिक्साबे)
चीन के विज्ञान मंत्रालय ने पहले रिपोर्ट जारी की, उसके बाद डिलीट कर दिया. (फोटोः डैनिएला रियलपे/पिक्साबे)

इसमें छपी रिपोर्ट के अनुसार बीजिंग नॉर्मल यूनिवर्सिटी के चाइना एक्स्ट्राटेरेस्ट्रियल सिविलाइजेशन रिसर्च ग्रुप ( China Extraterrestrial Civilization Research Group) के प्रमुख वैज्ञानिक प्रो. झांग तोंगजी ने बताया कि उनकी टीम को अंतरिक्ष से कुछ संदेश मिले. ये सिग्नल किसी बाहरी दुनिया या सभ्यता के लगते हैं. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि सिग्नलों की रिपोर्ट को पहले प्रकाशित किया गया. फिर उसे हटा क्यों दिया गया.  

प्रो. झांग और उनकी टीम को साल 2020 में संदिग्ध एलियन सिग्नलों के दो सेट्स रिसीव हुए थे. जिनकी प्रोसेसिंग अब भी चल रही है. इसी बीच साल 2022 में उन्हें एक और सिग्नल मिला, जो किसी एक्सोप्लैनेट (Exoplanet) की तरफ से आया है. ये बाहरी ग्रह हमारे सौर मंडल के बाहर हो सकता है. फिलहाल इससे मिले संदेशों का भी अध्ययन किया जा रहा है. 

प्रो. झांग ने कहा कि FAST टेलिस्कोप कम फ्रिक्वेंसी के रेडियो बैंड को लेकर बेहद संवेदनशील है. हो सकता है कि यह किसी तरह का रेडियो डिस्टर्बेंस हो. लेकिन जो सिग्नल रिसीव हुए हैं वो किसी बेहद उच्च स्तर के रेडियो इंटरफेयरेंस की वजह से पैदा हुए हैं. 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें