scorecardresearch
 

वास्तु के हिसाब से घर में सही जगह रखें सामान, बनी रहेगी सुख-शांति

कहीं ऐसा तो नहीं है कि कोई सी वस्तु गलत जगह या दिशा में रखी हो जिसके चलते नुकसान हो रहा हो?

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

अक्सर लोग सोचते हैं कि वास्तु अनुसार हम अपने घर में कौन सी वस्तु या समान कहां रखें. कहीं ऐसा तो नहीं है कि कोई सी वस्तु गलत जगह या दिशा में रखी हो जिसके चलते नुकसान हो रहा हो? दरअसल, वास्तु अनुसार घर में चार कोण होते हैं- ईशान कोण, नैऋत्य कोण, आग्नेय कोण और वायव कोण.

1. ईशान कोण जल एवं भगवान शिव का स्थान है और गुरु ग्रह इस दिशा के स्वामी है. ईशान कोण में पूजा घर, मटका, कुंवा, बोरिंग वाटरटैंक अदि का स्थान बान सकते हैं.

2. आग्नेय कोण अग्नि एवं मंगल का स्थान है और शुक्र ग्रह इस दिशा के स्वामी है. आग्नेय कोण को रसोई या इलैक्ट्रॉनिक उपकरण आदि का स्थान बना सकते हैं.

3. वायव कोण में वायु का स्थान है और इस दिशा के स्वामी ग्रह चंद्र है. वायव कोण को खिड़की, उजालदान आदि का स्थान बना सकते हैं. यहां गेस्ट रूम भी बना सकते हैं.

4. नैऋत्य कोण पृथ्‍वी तत्व का स्थान है और इस दिशा के स्वामी राहु और केतु है. नैऋत्य को ऊंचा और भारी रखना चाहिए. वैसे टीवी, रेडियो, सी.डी. प्लेयर अथवा खेलकूद का सामान यहां रख सकते हैं. नैऋत्य और दक्षिण में अलमारी, सोफा, मेज, भारी सामान तथा सुरक्षित रखे जाने वाले सामान रख सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें