scorecardresearch
 

सूर्य ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को भारी पड़ सकती है बस ये एक गलती, जान लें जरूरी बात

दिवाली के अगले दिन यानी मंगलवार को साल का आखिरी सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है, जिसकी शुरुआत दोपहर 4 बजकर 29 से होगी और शाम 6 बजकर 09 मिनट पर खत्म हो जाएगा. सूर्य ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले ही शुरू हो जाएगा.

X
सूर्य ग्रहण 2022 (PC: Getty Images)
सूर्य ग्रहण 2022 (PC: Getty Images)

दिवाली के अगले दिन यानी कि आज भारत में साल का आखिरी सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है. मंगलवार 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण दोपहर 4 बजकर 29 मिनट पर शुरू होगा और शाम 6 बजकर 09 मिनट पर खत्म हो जाएगा. वहीं ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले ही शुरू हो जाएगा. सूर्य ग्रहण के सूतक काल में कई चीजों की मनाही की जाती है. खासतौर पर गर्भवती महिलाओं के लिए अलग नियम हैं, जिनका पालन करना काफी जरूरी हो जाता है. 

सूतक काल से सूर्य ग्रहण काल के दौरान तक गर्भवती महिलाएं किसी भी तरह की नुकीली चीज, जैसे चाकू, कैंची का इस्तेमाल न करें. इसके साथ ही किसी भी तरह की सिलाई-कढ़ाई न करें.

कोशिश करें कि इस समय में घर के अंदर ही रहें और अगर किसी वजह से बाहर निकल रही हैं तो पेट के हिस्से पर गेरू लगाएं. मान्यता है कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो गर्भ में पल रहे बच्चे को नुकसान पहुंच सकता है. 

वहीं मान्यता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं सब्जी काटने से भी परहेज करें. साथ ही अन्य किसी ऐसे यंत्रों का भी इस्तेमाल नहीं करें, क्योंकि ऐसा करने से बच्चे में शारीरिक विकृति आती है.

भारत में कहां देख सकते हैं सूर्य ग्रहण 

साल 2022 का आखिरी सूर्य ग्रहण भारत में कई शहरों में नजर आएगा. इन शहरों में नई दिल्ली, बेंगलुरू, कोलकाता, चेन्नई, उज्जैन, वाराणसी और मथुरा शामिल हैं. वहीं मेघालय के दाईं और असम राज्य के गुवाहाटी के आसपास के बाएं हिस्सों में सूर्य ग्रहण नहीं नजर आएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें