scorecardresearch
 

Sawan 2022: कर्ज और पैसों की तंगी नहीं छोड़ रही पीछा? सावन के शुक्रवार पर जरूर करें ये चमत्कारी उपाय

सावन के महीने में महादेव की कृपा रहती है. ज्योतिषी कहते हैं कि सावन में अलग-अलग मनोकामनाओं की पूर्ति के उपाय किए जा सकते हैं. शिव के सावन का धन और समृद्धि से खास संबंध होता है. सावन के शुक्रवार एक विशेष उपाय करने से आर्थिक तंगी या कंगाली नष्ट हो जाती है.

X
Sawan 2022: कर्ज और पैसों की तंगी नहीं छोड़ रही पीछा? सावन के शुक्रवार जरूर करें ये चमत्कारी उपाय (Photo: Getty Images)
Sawan 2022: कर्ज और पैसों की तंगी नहीं छोड़ रही पीछा? सावन के शुक्रवार जरूर करें ये चमत्कारी उपाय (Photo: Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सावन के शुक्रवार जरूर करें ये उपाय
  • कभी नहीं रहेगी रुपये-पैसे की तंगी

सनातन धर्म में हर देवी-देवता की उपासना के लिए एक शुभ समय और दिन निश्चित है. लेकिन सावन का हर दिन शुभ और कल्याणकारी है क्योंकि सावन में महादेव की कृपा रहती है. ज्योतिषी कहते हैं कि सावन में अलग-अलग मनोकामनाओं की पूर्ति के उपाय किए जा सकते हैं. शिव के सावन का धन और समृद्धि से खास संबंध होता है. सावन के शुक्रवार एक विशेष उपाय करने से आर्थिक तंगी या कंगाली नष्ट हो जाती है.

सावन के महीने में हर तरह की ऊर्जा का स्तर घट जाता है जिससे सफलता के रास्ते बंद हो जाते हैं. इस महीने लगभग हर व्यक्ति को धन और सेहत की समस्याओं से जूझना पड़ता है. इसलिए इसमें धन-समृद्धि के उपाय करना जरूरी होता है. सावन महीने के अधिष्ठाता भगवान शिव हैं. इस महीने में शिव उपासना से जीवन में धन की सारी मुश्किलें हल की जा सकती हैं. यहां तक कि विशेष प्रयोगों से दरिद्र योग भी नष्ट किया जा सकता है.

सावन के शुक्रवार जरूर करें ये काम
सावन के शुक्रवार केवल एक उपाय करने से आपका भाग्य बदल जाएगा. इस दिन शाम को मंदिर जाकर भगवान शिव को जल अर्पित करें. इसके बाद वहीं बैठकर शिव के पंचाक्षर मंत्र का कम से कम 108 बार जाप करें. मंत्र है- नमः शिवाय. फिर मां लक्ष्मी के मंत्र का जाप करें. इनका मंत्र है- ‘ॐ श्रीं ह्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं ॐ महालक्ष्मयै नम:’ शाम को पहले शिव जी की आरती करें फिर मां लक्ष्मी की आरती करें. फिर महादेव और मां लक्ष्मी से धन प्राप्ति की प्रार्थना करें.

कैसे पाएं कर्ज से मुक्ति?
अगर आप कर्ज से परेशान हैं तों सावन में रोजाना शिवलिंग पर लाल फूल चढ़ाएं. इसके बाद "नमः शिवाय" बोलते हुए शिवलिंग को जल अर्पित करें. फिर मां लक्ष्मी को लाल गुलाब का फूल चढ़ाएं और मीठे पकवान का भोग लगाएं. शिवलिंग की परिक्रमा करें और दोनों देवी-देवता से कर्ज मुक्ति की प्रार्थना करें. सावन में भगवान शिव को पीले फूल अर्पित करने से वैवाहिक जीवन की बाधाएं भी दूर होती हैं.

 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें