scorecardresearch
 

Raksha Bandhan 2022: रक्षाबंधन पर 4 शुभ योग, इन 5 अबूझ मुहूर्तों में बांधी जाएगी राखी

इस साल सावन की चतुर्दशी तिथि 11 अगस्त को सुबह 10 बजकर 38 मिनट तक रहेगी. इसके बाद पूर्णिमा तिथि लग जाएगी. पूर्णिमा तिथि अगले दिन 12 अगस्त को सुबह 07 बजकर 05 मिनट तक रहेगी. इसी अवधि में रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा.

X
Raksha Bandhan 2022: रक्षाबंधन पर बन रहे 4 शुभ योग, इन 5 अबूझ मुहूर्तों में बंधेगी राखी (Photo: Getty Images)
Raksha Bandhan 2022: रक्षाबंधन पर बन रहे 4 शुभ योग, इन 5 अबूझ मुहूर्तों में बंधेगी राखी (Photo: Getty Images)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रक्षा बंधन पर बन रहे 4 शुभ योग
  • इन 5 मुहूर्त में बांधी जाएगी राखी

भाई बहन के प्रेम का प्रतीक रक्षा बंधन का त्योहार आने वाला है. हिंदू कैलेंडर के अनुसार, हर साल सावन की पूर्णिमा तिथि को रक्षा बंधन का पर्व मनाया जाता है. इस दिन बहनें भाई की कलाई पर राखी बांधती हैं और उनसे अपनी रक्षा का वचन लेती हैं. इस बार रक्षाबंधन का त्योहार 11 अगस्त को मनाया जाएगा.

इस साल सावन की चतुर्दशी तिथि 11 अगस्त को सुबह 10 बजकर 38 मिनट तक रहेगी. इसके बाद पूर्णिमा तिथि लग जाएगी. पूर्णिमा तिथि अगले दिन 12 अगस्त को सुबह 07 बजकर 05 मिनट तक रहेगी. इसी अवधि में रक्षा बंधन का त्योहार मनाया जाएगा. ज्योतिषियों का कहना है कि इस साल रक्षा बंधन का पर्व चार शुभ योगों के साथ आएगा.

रक्षाबंधन पर 4 शुभ संयोग
इस बार रक्षाबंधन पर एक नहीं, बल्कि चार शुभ योग एकसाथ आ रहे हैं. 10 अगस्त को शाम 7 बजकर 35 मिनट से 11 अगस्त को दोपहर 3 बजकर 31 मिनट तक आयुष्मान योग रहेगा. 11 अगस्त को सुबह 05 बजकर 30 मिनट से 06 बजकर 53 मिनट तक रवि योग रहेगा. फिर दोपहर 3 बजकर 32 मिनट से अगले दिन 12 अगस्त को सुबह 11 बजकर 33 मिनट तक सौभाग्य योग रहने वाला है. इस दिन घनिष्ठा नक्षत्र के साथ शोभन योग भी होगा.

रक्षा बंधन पर 5 अबूझ मुहूर्त
रक्षा बंधन पर शुभ योग के साथ-साथ कुछ अबूझ मुहूर्त भी होंगे. इन मुहूर्तों में भाई की कलाई पर राखी बांधना बहुत ही शुभ माना जाता है. इस दिन सुबह 11 बजकर 37 मिनट से 12 बजकर 29 मिनट तक अभिजीत मुहूर्त होगा. फिर दोपहर 02 बजकर 14 मिनट से 03 बजकर 07 मिनट तक विजय मुहूर्त रहेगा.

इसके अलावा, 06:23 से 06:47 तक गोधूलि मुहूर्त, शाम 06:36 से 07:42 तक सायाह्न संध्या मुहूर्त और शाम 06:55 से 08:20 तक अमृत काल मुहूर्त रहेगा. रक्षा बंधन के त्योहार में भद्राकाल में भाई को राखी बांधने से बचना चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें