scorecardresearch
 

उदयपुरः कन्हैयालाल की हत्या के बाद भी दुस्साहस जारी, नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर दी धमकी, 10 आरोपी गिरफ्तार

उदयपुर में 28 जून को नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट शेयर करने के मामले में रियाज और गौस मोहम्मद ने टेलर कन्हैयालाल की बेरहमी से गला काटकर हत्या कर दी गई थी. इसके बाद भी आरोपियों का दुस्साहस कम नहीं हुआ है. इस हत्याकांड के बाद नूपुर शर्मा के समर्थन में जिन लोगों ने सोशल मीडिया पर पोस्ट की, उन्हें भी धमकी दी गई. हालांकि पुलिस ने इस मामले में 10 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

X
उदयपुर में 28 जून को कन्हैयालाल की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी (फाइल फोटो)
उदयपुर में 28 जून को कन्हैयालाल की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 28 जून को हुई थी टेलर कन्हैयालाल की हत्या
  • पुलिस ने अगल-अलग जगहों से की गिरफ्तारी

उदयपुर में टेलर कन्हैयालाल हत्याकांड के बाद पुलिस ने नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर धमकी देने के मामले में अब तक 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं 20 जून को कलेक्ट्रेट के बाहर भड़काऊ नारेबाजी के मामले में भूपालपुरा पुलिस ने 2 युवक को गिरफ्तार किया है. दरअसल, उदयपुर शहर के अलग-अलग थाना इलाकों में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने वालों को धमकी देने के मामले में एसपी विकास शर्मा ने त्वरित कार्रवाई के निर्देश दिए थे. जिस पर प्रतापनगर, सूरजपोल, हाथीपोल, धानमंडी थाना क्षेत्रों में पुलिस ने 10 युवकों को गिरफ्तार किया है. 

प्रताप नगर थानाधिकारी दर्शन सिंह ने बताया कि पिछले दिनों प्रतापगढ़ थाना क्षेत्र के रहने वाले युवक को नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट शेयर पर जान से मारने की धमकी मिली थी. जिस पर पुलिस ने अब्दुल मुत्तलीबाली (22 साल) निवासी किशनपोल, गुफरान हुसैन (20 साल) निवासी मसूरी कॉलोनी, शाहिद नवाज खान (19) निवासी सीए सर्कल थाना सविना, शोएब जिलानी (23 साल) निवासी गांधीनगर मल्लातलाई थाना अम्बामाता, तोहिद उर्फ आहान (20 साल) को गिरफ्तार कर लिया है. 

वहीं सूरजपोल थानाधिकारी लीलाराम ने बताया सोशल मीडिया पर पोस्ट करने पर धमकाने के मामले में सूरजपोल थाना पुलिस ने समीर मंसूरी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया. उधर, हाथीपोल थानाधिकारी योगेश चौहान ने बताया कि सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने पर धमकी देने के मामले में पुलिस ने मोहमद अरशद को गिरफ्तार किया है. वहीं अशरद के साथी वकील आदिल शेख को गिरफ्तार किया है.

धानमंडी थानाधिकारी हजारी लाल मीणा ने बताया कि मृतक कन्हैयालाल को सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर करने पर धमकी दी गई थी. इस मामले में कार्रवाई करते हुए उमर फारुख निवासी ओडपाड़ा मुखर्जी चौक सहित एक युवक को गिरफ्तार किया है.

20 जून को नूपुर शर्मा के विरोध में एक संप्रदाय के लोग विरोध दर्ज करवाने के लिए जुलूस के रूप में कलेक्ट्रेट पहुंचे थे. जहां भड़काऊ नारेबाजी करते हुए विरोध प्रदर्शन किया था. पुलिस ने आरोपियों पर कार्रवाई करते हुए हिस्ट्रीशीटर गुलाम दस्तगीर और हाफिज कादरी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया.

(रिपोर्ट-धीरज रावल)

ये भी देखें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें