scorecardresearch
 

मां ने 5 साल की बेटी और 18 माह के बेटे को पानी के कुंड में फेंका, फिर खुद भी लगाई छलांग

हनुमानगढ़ के बिरकाली में घरेलू कलह के चलते महिला ने बेटी-बेटे को पानी के कुंड में धकेल कर खुद भी उसमे छलांग लगा दी. तीनों की पानी में डूबने से मौत हो गई. पुलिस ने तीनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है.

X
प्रतीकात्मक तस्वीर.
प्रतीकात्मक तस्वीर.

राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में महिला ने अपने दो बच्चों को पानी के कुंड में धकेल कर खुद भी उसमें छलांग लगा दी. तीनों की पानी में डूबने से मौत हो गई. घटना बिरकाली क्षेत्र की है. जानकारी के मुताबिक, 26 साल की हुसैना ने 5 साल की बेटी सिमरन और 18 माह के बेटे विशाल को पहले कुंड में धकेल दिया. फिर खुद भी उसमें छलांग लगा दी.

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और तीनों के शवों को कुंड से बाहर निकाला. इसके बाद शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया गया. पुलिस उपाधीक्षक रघुवीर सिंह ने बताया कि हुसैना की शादी 7 साल पहले विकास खां नामक शख्स से हुई थी. दोनों को दो बच्चे भी हुए. लेकिन हुसैना और विकास के बीच अक्सर झगड़े होते रहते थे.

बताया जा रहा है कि घरेलू कलह के कारण ही हुसैना ने यह कदम उठाया. फिलहाल पुलिस विकास से पूछताछ कर रही है.

तहसीलदार ने की आत्महत्या
वहीं, धौलपुर जिले में एक तहसीलदार ने पेड़ से लटक कर आत्महत्या कर ली. पुलिस ने बताया कि 35 वर्षीय आशाराम गुर्जर करौली जिले की मासलपुर तहसील में पदस्थापित थे. जानकारी के मुताबिक, गुर्जर का शव शनिवार बड़ी सदर थाना क्षेत्र में स्थित उनके गांव गढ़ी जखौदा में एक पेड़ लटका हुआ मिला. स्थानीय लोगों ने शव को पेड़ से लटका देखा और पुलिस केा सूचित किया. गुर्जर का हाल ही में अलवर से करौली तबादला हुआ था और कार्यभार संभालने के बाद वे दो दिन पहले अपने घर आए थे. फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है. मामले की जांच जारी है.

(हनुमानगढ़ से गुलाम नबी की रिपोर्ट)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें