scorecardresearch
 

मुसलमानों की बढ़ती आबादी के पीछे साजिश? भागवत के बयान पर शुरू हुई सियासत

मुसलमानों की बढ़ती आबादी के पीछे साजिश? भागवत के बयान पर शुरू हुई सियासत

क्या मुसलमानों की आबादी में इजाफे के पीछे कोई सुनियोजित साजिश है? यूपी सरकार की जनसंख्या नीति को लेकर जारी विवादित बयान के बीच संघ प्रमुख मोहन भागवत ने एक अहम बयान दिया है. भागवत के मुताबिक 1930 से ही योजनाबद्ध तरीके से मुस्लिमों ने आबादी बढ़ाई, वर्चस्व स्थापित करना और पाकिस्तान बनाने इसके पीछे का मकसद था. भारत में मुस्लिम आबादी फिर बड़ी बहस का केंद्र बन गई है. यूपी में जनसंख्या नीति पर अभी ठंडी भी नहीं पड़ी थी कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक के चीफ मोहन भागवत ने इस बहस को नया आयाम दे दिया. गुवाहाटी में एक कार्यक्रम में ये विवाद बयान दिया. देखें लंच ब्रेक का ये एपिसोड.

Is there any well-planned conspiracy behind the increase in the population of Muslims? RSS Sangh chief Mohan Bhagwat has given a controversial statement regarding the population policy of the UP Government. According to Bhagwat, since 1930, Muslims had systematically increased the population, established supremacy and the purpose behind this was to create Pakistan. The Muslim population in India has again become the center of great debate. The issue of population policy in UP had not yet cooled down that the chief of the Rashtriya Swayamsevak Sangh Mohan Bhagwat, gave a new dimension to this debate. Made this controversial statement in a program in Guwahati. Watch this episode of Lunch Break.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें