scorecardresearch
 

वर्तमान से अतीत तक, देखिए JNU की असली कहानी!

वर्तमान से अतीत तक, देखिए JNU की असली कहानी!

JNU सिर्फ एक संस्था नहीं बल्कि कई विरोधी विचारधाराओं का अद्भुत संगम है. लेफ्ट से लेकर राइट तक, समाजवादी से लेकर पूंजीवादी तक. उग्रवादी से लेकर उदारवादी तक. हर तरह की विचारधाराओं की मजबूत बुनियाद पर जेएनयू की इमारत खड़ी है. खास बात ये है कि तमाम विरोधाभाषी विचारधाओं का गढ़ होने के बावजूद JNU की अपनी एक खास संस्कृति है, अपनी एक अलग पहचान है. यही वजह है कि आज भी इस यूनिवर्सिटी में पढ़ना किसी सपने से कम नहीं. करीब साढ़े 8 हजार छात्रों वाले जेएनयू का क्या इतिहास है, क्यों जेएनयू में बार-बार होते विवाद हैं? देखिए, वर्तमान से अतीत तक JNU की असली कहानी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें