scorecardresearch
 

हल्ला बोल: सियासी मुद्दा बनी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा, पीएम मोदी पर निशाना

हल्ला बोल: सियासी मुद्दा बनी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा, पीएम मोदी पर निशाना

इंडिया गेट के सामने छह दशक से खाली पड़ी छतरी के नीचे राष्ट्रीय नायक यानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा आपको जल्द नजर आएगी. नेताजी की 125 वीं जयंती पर राष्ट्र की तरफ से उन्हें श्रद्धांजलि देने का ये सबसे बड़ा जरिया है. 23 जनवरी 2022 की तारीख भारतीय इतिहास में एक ऐतिहासिक अध्याय की गवाह बनी, जिसे देश के प्रधानमंत्री ने जोड़ा है. बता दें कि पीएम मोदी स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस के होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण करने जा रहे हैं. इसी होलोग्राम प्रतिमा की जगह बाद में ग्रेनाइट से बनी भव्य प्रतिमा स्थापित की जाएगी. लेकिन अब इसपर एक राजनितिक विवाद शुरू हो गया है. विपक्ष का कहना है कि मोदी नेता जी की आड़ में अपना महत्व बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं. देखें वीडियो.

Netaji Subhash Chandra Bose statue has become a political issue now. Opposition is blaming that PM Modi is trying to intense his importance under the guise of Netaji. Watch this episode of Halla Bol to know the opposition's take on the unveiling of the hologram statue of Subhash Chandra Bose.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें