scorecardresearch
 

किसानों को Supreme Court की Committee पर क्यों नहीं है भरोसा? देखें हल्ला बोल

किसानों को Supreme Court की Committee पर क्यों नहीं है भरोसा? देखें हल्ला बोल

क्या सुप्रीम कोर्ट ने दखल से किसानों की समस्या का हल निकलेगा? क्या कमेटी बनाए जाने से आंदोलन का समाधान निकलेगा? सुप्रीम कोर्ट ने जो कमेटी बनाई है, उसे दो महीने के भीतर रिपोर्ट देना होगा. इतना ही नहीं 10 दिनों के भीतर कमेटी को पहली बैठक करनी होगी. कमेटी को दोनों पक्षों की बात सुननी होगी. इस बीच किसान संगठनों ने ऐलान कर दिया है कि वो कमेटी के साथ बात नहीं करेंगे. क्या सुप्रीम कोर्ट के तीनों कृषि कानून पर स्टे लगाने से मान जाऐंगे किसान? इस सवाल का जवाब कोर्ट के अंदर और बाहर दोनो साफ है. वकील के एल शर्मा ने कोर्ट में बहस की शुरूआत करते हुए साफ किया कि किसान कमेटी के समक्ष पेश नहीं होंगे. वहीं कोर्ट के बाहर आंदोलन में शामिल किसान नेता ने भी साफ किया, कानून वापसी से पहले घर वापसी नहीं होगी. आखिर कब तक किसानों और केंद्र सरकार के बीच गतिरोध जारी रहेगा, देखें हल्ला बोल, अंजना ओम कश्यप के साथ.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें