scorecardresearch
 

आतंकवाद के खिलाफ सिर्फ बयानबाजी कब तक?

आतंकवाद के खिलाफ सिर्फ बयानबाजी कब तक?

जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप पर जिन आतंकियों ने सेना से टकराने की हिमाकत की है वो जिंदा नहीं बच पाएंगे. लेकिन इस हमले ने एक बार फिर एक बड़ा सवाल उछाला है कि हमारे घरों में घुसकर पाकिस्तानी आतंकी कब तक हमला करते रहेंगे और हम ये कहकर काम चलाते रहेंगे कि मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा. हल्ला बोल में देखिए आर्मी कैंप पर हुए हमले से जुड़े कई सवालों पर चर्चा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें