scorecardresearch
 

PAK: लखवी पर कार्रवाई बहाना है, खुद को ब्लैक लिस्ट से बचाना है?

PAK: लखवी पर कार्रवाई बहाना है, खुद को ब्लैक लिस्ट से बचाना है?

मुंबई हमले के मास्टरमाइंड और लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर जकीउर्रहमान लखवी को 15 साल की सजा सुनाई गई है, टेरर फंडिंग केस में पाकिस्तान की एक अदालत ने लखवी को ये सजा सुनाई है, पहली बार में ऐसा लगता है कि पाकिस्तान आतंकियों पर कार्रवाई कर रहा है, मगर असल में ये पाकिस्तान की पैंतरेबाजी है,अगले महीने FATF यानि फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की बैठक होनी है, इस बैठक में पहले से ग्रे लिस्ट में मौजूद पाकिस्तान पर ब्लैक लिस्ट होने का खतरा है, अगर पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट हुआ तो उसको दुनिया की कोई वित्तीस संस्था कर्ज नहीं देगी,और अगर पाकिस्तान को कर्ज नहीं मिला तो उसका कंगाल होना तय है. इसीलिए आतंकियों पर कार्रवाई का दिखावा किया जा रहा है. ये रिपोर्ट देखिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें