scorecardresearch
 

MP: आगर मालवा में VHP कार्यकर्ता पर जानलेवा हमला, नूपुर शर्मा का किया था समर्थन

मध्य प्रदेश के आगर मालवा में दर्जनों की तादाद में हमलावरों ने विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता आयुष पर हमला कर दिया. आयुष ने नूपुर शर्मा का समर्थन किया था.

X
मध्य प्रदेश के आगर मालवा की घटना (प्रतीकात्मक तस्वीर) मध्य प्रदेश के आगर मालवा की घटना (प्रतीकात्मक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • VHP कार्यकर्ता पर दर्जनों हमलावरों ने किया हमला
  • गंभीर रूप से घायल का अस्पताल में चल रहा उपचार

मध्य प्रदेश के आगर मालवा में विश्व हिंदू परिषद के एक कार्यकर्ता पर जानलेवा हमले का मामला सामने आया है. विश्व हिंदू परिषद का कार्यकर्ता आयुष हमले में गंभीर रूप से घायल हो गया है. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता पर हमले की ये घटना मध्य प्रदेश के आगर मालवा जिले की है. पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज कर तहकीकात शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता 25 साल के आयुष ने नूपुर शर्मा के उस बयान का समर्थन किया था, जिसे लेकर हंगामा खड़ा हो गया था. बताया जा रहा है कि नूपुर शर्मा के बयान का समर्थन करने के कारण आयुष कुछ लोगों के निशाने पर आ गया था. आयुष बुधवार को किसी काम के लिए घर से निकला था.

आयुष पर कुछ लोगों ने हमला बोल दिया. कहा जा रहा है कि हमलावरों की तादाद दर्जनों में थी. दर्जनों की संख्या में हमलावर आयुष पर टूट पड़े. हमलावरों ने आयुष की निर्मम तरीके से पिटाई कर दी और उसे गंभीर रूप से घायल छोड़ मौके से आराम से फरार हो गए. हमलावरों के मौके से भाग निकलने के बाद आसपास के लोगों ने घटना की जानकारी पुलिस को दी और घायल को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल पहुंचाया.

आयुष के सिर में गंभीर चोट आई है. उसका उपचार आगर मालवा के एक अस्पताल में चल रहा है. घटना की सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. पुलिस ने मामला दर्ज कर तहकीकात शुरू कर दी है. दूसरी तरफ, विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता पर हमले की खबर इलाके में जंगल में लगी आग की तरह फैल गई.

ये खबर सुनते ही विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में थाने पर जुट गए. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने थाने पर प्रदर्शन किया. विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता आयुष पर हमला करने वालों की तत्काल गिरफ्तारी के साथ ही उन्हें कड़ी से कड़ी सजा दिलाए जाने की मांग कर रहे थे. पुलिस ने किसी तरह समझाकर उन्हें शांत कराया और वापस भेजा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें