scorecardresearch
 

MP: दोगुना पैसा करने का झांसा देकर ठगी करने वाला गिरोह पकड़ा, 10 करोड़ रुपए बरामद

मध्य प्रदेश के बालाघाट के एसपी समीर सौरभ ने बताया कि 'लंबे समय से पुलिस को जानकारी मिल रही थी कि 30 दिन, 28 दिन में पैसा डबल करने का नाम पर कुछ लोग जनता को झांसा देकर उनसे पैसे ऐंठ रहे हैं. जिस पर टीम बना कर जांच की गई.

X
पुलिस ने जब गिनती की तो ठगों के गिरोह से 10 करोड़ रुपए से ज्यादा कैश जब्त किया गया.
पुलिस ने जब गिनती की तो ठगों के गिरोह से 10 करोड़ रुपए से ज्यादा कैश जब्त किया गया.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बालाघाट में अलग-अलग गिरोह के 11 लोग पकड़े गए
  • 30 दिन में रकम दोगुनी करने का झांसा देते थे

मध्य प्रदेश के बालाघाट में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. पुलिस ने लोगों से दोगुना पैसा करने के नाम पर करोड़ों रुपए का फर्जीवाड़ा करने वाले कुछ अलग-अलग गिरोह के ठिकानों पर दबिश दी और 10 करोड़ रुपए से ज्यादा का कैश बरामद किया है. इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी सोमेंद्र समेत कुल 11 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.  

एसपी समीर सौरभ ने बताया कि 'लंबे समय से पुलिस को जानकारी मिल रही थी कि 30 दिन, 28 दिन में पैसा डबल करने का नाम पर कुछ लोग जनता को झांसा देकर उनसे पैसे ऐंठ रहे हैं. जिस पर टीम बना कर जांच की गई. शुरुआती कार्रवाई में 2 अलग-अलग प्रकरणों में आरोपियों से 10 करोड़ से ज्यादा नकदी बरामद की है. इस मामले में आगे भी कार्रवाई जारी है. पुलिस ने जब गिरोह के अलग-अलग ठिकानों पर दबिश देकर कैश बरामद किया तो उसकी खुली रह गईं. 

पुलिस ने जब गिनती शुरू की तो यह कोई मामूली रकम नहीं निकली, बल्कि ठगों के इस गिरोह के पास से 10 करोड़ रुपए से ज्यादा का कैश जब्त किया गया. पुलिस को अंदेशा है कि मामले की जांच के दौरान रकम और बढ़ सकती है. बता दें कि इसी साल मार्च में लांजी विधायक हीना कावरे ने मध्यप्रदेश विधानसभा में इस तरह के गिरोहों से जुड़ा सवाल भी किया था. 

बता दें कि इसी महीने इंदौर में पुलिस ने ठगों को पकड़ा था. इंदौर क्राइम ब्रांच ने चार जालसाजों को गिरफ्तार किया था, जो इंस्टाग्राम आईडी हैक कर गूगल-पे, फोन-पे, पेटीएम का क्यू आरकोड स्कैन कर लाखों रुपये ऐंठ लेते थे. आरोपी सोशल मीडिया अकाउंट हैक कर लोगों से रुपये वसूलते थे. आरोपियों ने कई लोगों से गूगल-पे, फोन-पे, पेटीएम का क्यू आरकोड स्कैन कर लाखों रुपये ऐंठना कबूला किया है. 

(बालाघाट से अतुल वैद्य)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें