scorecardresearch
 

'गलती से चोरी हो गई, मुझे माफ करें...', चिट्ठी लिखकर चोर ने लौटाया मंदिर का सामान

मध्य प्रदेश के बालाघाट में स्थित जैन मंदिर से कुछ दिन पहले चांदी की कुछ चीजें चोरी हो गई थीं. इसके बाद वही सारी चीजें एक थैले में पंचायत भवन के पास रखी मिलीं. थैले पर एक कागज चिपका था, जिस पर लिखा था कि 'गलती से चोरी हो गई, इसके लिए मैं माफी मांगता हूं.'

X
थैले में मिला चोरी गया सामान.
थैले में मिला चोरी गया सामान.

मध्य प्रदेश के बालाघाट के लामता में चोरी का अनोखा मामला सामने आया है. यहां जैन मंदिर में लाखों रुपए की कीमत के चांदी के छत्र और अन्य चीजें चोरी हो गईं. इसके बाद जब चोर का दिल पसीज गया तो वह सारा सामान मंदिर के पास छोड़ गया. उसने खत लिखकर माफी भी मांगी. इस माफीनामे में लिखा है कि इस चोरी के बाद मुझे बहुत नुकसान हुआ है, इसके लिए मैं माफी मांगता हूं.

जानकारी के अनुसार, थाना लामटा के बाजार चौक स्थित शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर में सोमवार रात अज्ञात चोर ने जैन मंदिर से चांदी के 9 छत्र व अन्य चीजें चोरी कर ली थीं. घटना की जानकारी के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की.

पुलिस ने जांच के बाद पूर्व में हुई चोरी के आरोपी और अन्य संदिग्धों पर लगातार दबाव बनाना शुरू किया. इसके बाद ही मंदिर से चोरी गया सामान एक स्थान से बरामद हो गया. यह सामान पंचायत भवन के पास गड्ढे में रखा मिला है.

पंचायत भवन के पास गड्ढे में रखा था थैला

बताया जा रहा है कि जैन परिवार के लोग जब पानी भरने के लिए नल के पास पहुंचे तो गड्ढे में एक थैला दिखा. थैले को देखा तो उसमें कुछ चांदी की चीजें नजर आईं. इसके बाद जानकारी जैन समाज और पुलिस को दी गई. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शिनाख्त कराई. 

दिगंबर जैन पंचायत के अध्यक्ष अशोक कुमार जैन ने बताया कि नल के पास मिला सारा सामान जैन मंदिर का है, जो कुछ समय पहले चोरी हो गया था. इसके बाद जैन समाज ने बैंड बाजे के साथ भगवान के मंदिर में सारी चीजें पहुंचाकर स्थापित कीं. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय डाबर ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है. चोर का पता लगाया जा रहा है.

रिपोर्टः अतुल वैद्य

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें