scorecardresearch
 

लाहौर की उस पहले जिले के दो परगना में पहुंचे, जंग के माहौल में पीयूष मिश्रा के प्यार का सुर

लाहौर के उस पहले जिले के, दो परगना में पहुंचे, रेशम गली के दूजे कूचे के, चौथे मकां में पहुंचे, कहते हैं जिसको दूजा मुल्क, उस पाकिस्तान में पहुंचे, लिखता हूं खत मैं हिंदुस्तां से, पहलु-ए-हुस्ना में पहुंचे, ओ हुस्ना...पाकिस्तान से जंग के माहौल के बीच साहित्य ही वह जगह है, जो प्यार की बात भी कर सकता है, सुनिए गायक, हीरो, कलाकार पीयूष मिश्रा की आवाज में पड़ोसी से प्यार को बढ़ावा देने वाला यह गीत

Lahore ke us pahale jile ke do paragana me pahunche...kahate hain jisko duja mulk us Pakistan me pahunche..O Husna..Piyush Mishra love song at Sahitya Aajtak

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें