scorecardresearch
 

राजू श्रीवास्तव को याद कर रो पड़ी पत्नी श‍िखा, दोस्तों ने बताया कैसे तीन गुना दाम में खरीदा था अपना मकान

साहित्य आजतक 2022 में राजू श्रीवास्तव को श्रद्धांजलि देने के लिए उनका साथी कॉमेडियन पहुंचे. एहसान कुरैशी ने अमिताभ बच्चन की मिमिक्री के लिए मशहूर राजू श्रीवास्तव की जिंदगी का एक यादगार किस्सा बताया. उनकी जिंदगी में एक ऐसा रियल लाइफ मोमेंट हुआ था जैसा बच्चन साहब की फिल्म 'दीवार' में था.

X
साहित्य आजतक 2022 में 'राजू श्रीवास्तव के नाम'
साहित्य आजतक 2022 में 'राजू श्रीवास्तव के नाम'

मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव ने इस साल सितंबर में इस संसार को अलविदा कह दिया. कस्बाई लहजे और किरदारों को अपनी कॉमेडी में उतारने के लिए राजू को लोग बहुत पसंद करते थे और उनके जाने का दुख उनके चाहने वालों को आज तक है. 

साहित्य आजतक 2022 में लोगों के चहेते कॉमेडियन की याद में एक खास सेशन रखा गया 'राजू श्रीवास्तव के नाम'. राजू को श्रद्धांजलि देने के लिए उनके साथी कॉमेडियन सुनील पाल, एहसान कुरैशी, सुरेश अलबेला, नवीन प्रभाकर और दीपू श्रीवास्तव मौजूद थे, जो राजू के भाई भी हैं. राजू की पत्नी शिखा श्रीवास्तव इस खास सेशन के दौरान ऑडियंस में मौजूद थीं. सुनील पाल ने खुद को 'राजू श्रीवास्तव का भक्त' बताया और एहसान कुरैशी ने उन्हें 'कॉमेडी का भीष्म पितामह' कहा.

साहित्य आजतक 2022 में सुनील पाल

  

आजतक की तरफ से राजू श्रीवास्तव को याद करते हुए एक खास वीडियो दिखाया गया जिसमें चैनल के अलग-अलग कार्यक्रमों में उनकी परफॉरमेंस के क्लिप थे. इसमें से एक क्लिप में राजू, अमिताभ बच्चन के सामने परफॉर्म कर रहे हैं. राजू के इस खास वीडियो को देखकर उनकी पत्नी शिखा श्रीवास्तव की आंखें नं हो गईं और वो आंसू पोंछती नजर आईं.

राजू श्रीवास्तव और अमिताभ बच्चन के जीवन में एक जैसी थीं ये चीजें 
राजू श्रीवास्तव को लोगों ने अमिताभ बच्चन की मिमिक्री करने के लिए खूब प्यार दिया और उनके मिमिक्री वाले एक्ट बहुत पसंद किए गए. कॉमेडियन एहसान कुरैशी ने साहित्य आजतक 2022 के मंच से बताया कि अमिताभ बच्चन और राजू श्रीवास्तव के जीवन में कितनी चीजें एक जैसी थीं.

साहित्य आजतक 2022 में एहसान कुरैशी

उन्होंने कहा, 'राजू भाई मुंबई आए तो जूनियर अमिताभ बनकर आए. उनके गाने गाते थे, उनके डायलॉग बोलते थे, उनकी एक्टिंग करते थे. बिग बॉस 3 में गए, जिसे अमिताभ जी ने होस्ट किया और वहां राजू भाई की उनसे मुलाक़ात हुई. अमिताभ बच्चन के पिताजी हरिवंश राय बच्चन जी भी कवि थे और राजू जी के पिता बलई काका भी कवि. दोनों के दो बच्चे हैं- एक बेटी, एक बेटा. 'कूली' फिल्म में अमिताभ बच्चन का एक्सीडेंट हुआ तो पूरे देश ने उनके लिए प्रार्थना की, उनके लिए भगवान के आगे हाथ जोड़े. राजू जी 42 दिन संघर्ष करते रहे तो पूरे देश ने उनके लिए दुआ की.'

एहसान कुरैशी ने बताया राजू श्रीवास्तव की जिंदगी का 'दीवार' मोमेंट 
एहसान कुरैशी ने राजू की जिंदगी का एक खास किस्सा बताया, जो उनकी रियल लाइफ में अमिताभ बच्चन की फिल्म 'दीवार' जैसा था. 1975 में आई 'दीवार' में बच्चन साहब का किरदार विजय वर्मा, एक बिल्डिंग को हद से ज्यादा ऊंचे दाम में खरीदता है. क्योंकि जब बिल्डिंग बन रही थी, तो विजय की मां ने उसमें मजदूरी की थी. राजू श्रीवास्तव ने अपनी असल जिंदगी में भी ऐसा ही कुछ किया था. 

एहसान कुरैशी ने बताया, 'मजबूरी के दौर में राजू भाई के पिता ने कानपुर का मकान 3 लाख रुपये में बेच दिया था. राजू भाई का करियर जब चल निकला तो उन्होंने वही मकान 25 लाख में वापिस खरीदा. क्योंकि उस मकान से उनके पिता जी की यादें जुड़ी थीं.'

भावुक हुईं राजू श्रीवास्तव की पत्नी 

साहित्य आजतक 2022 में शिखा श्रीवास्तव

राजू श्रीवास्तव की पत्नी शिखा श्रीवास्तव भी इस खास सेशन के अंत में मंच पर आईं और अपने पति के लिए जनता का प्यार देखकर भावुक नजर आईं. उन्होंने कहा, 'थैंक यू सो मच आजतक के साथ उनका बड़ा लंबा रिलेशन रहा. वो यहां आते थे तो मैं भी उनके साथ आती थी. मेरी गुजारिश है कि आप जब भी उन्हें याद करें, हंसते-हंसते याद करें. मुश्किल दौर में जिस तरह आप सभी ने हमारा साथ दिया उसके लिए आपका शुक्रिया.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें