scorecardresearch
 
साहित्य आजतक

साहित्य आजतक: दिल्ली में लगा साहित्य का महाकुंभ...

साहित्य आजतक: दिल्ली में लगा साहित्य का महाकुंभ...
  • 1/6
लिटरेचर फेस्ट‍िवल 'साहित्य आज तक' के दो दिवसीय कार्यक्रम का आगाज इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर द आर्ट्स, नई दिल्ली में हुआ और इस मौके पर इंडिया टुडे ग्रुप की एडिटोरियल डायरेक्टर कली पुरी ने साहित्य के महत्व के बारे में बात की. कली पुरी ने कहा कि यह दुख की बात है हमारे देश में हिंदी साहित्य को महत्व नहीं दिया जाता. हमारी कोशिश है कि हम परंपराओं को अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए संभाल के रखें.
साहित्य आजतक: दिल्ली में लगा साहित्य का महाकुंभ...
  • 2/6
लिटरेचर फेस्ट‍िवल 'साहित्य आज तक' के कार्यक्रम में इंडिया टुडे ग्रुप के एडिटर इन चीफ अरुण पुरी भी मौजूद रहे.
साहित्य आजतक: दिल्ली में लगा साहित्य का महाकुंभ...
  • 3/6
साहित्य आजतक के पहले सेशन का आगाज बॉलीवुड के मशहूर गीतकार और शायर जावेद अख्तर के साथ शुरू हुआ.
साहित्य आजतक: दिल्ली में लगा साहित्य का महाकुंभ...
  • 4/6
साहित्य के इस महाकुंभ के उदघाटन सत्र में बोलते हुए गीतकार और शायर जावेद अख्तर ने कहा कि कॉमन सिविल कोड पर देशव्यापी बहस हो और संविधान को आधार बनाकर निर्णय लिया जाए. जो संविधान के विरुद्ध है, उसे खारिज कर दिया जाए.
साहित्य आजतक: दिल्ली में लगा साहित्य का महाकुंभ...
  • 5/6
बॉलीुवड के मशहूर गीतकार और लेखक पुण्य प्रसून जोशी भी इस मौके पर मौजूद रहे. दूसरा सेशन उनके साथ लिया गया जिसमें उन्होंने कवि मन और उसकी अभिव्यक्ति के बारे में बात की.
साहित्य आजतक: दिल्ली में लगा साहित्य का महाकुंभ...
  • 6/6
साहित्य के इस महाकुंभ में बॉलीवुड के जाने माने डायरेक्टर अनुराग कश्यप भी मौजूद रहे. फिल्मों के नए दौर पर बात करने के लिए अनुराग के साथ एक खास सेशन लिया जाएगा.