scorecardresearch
 

चार साल पहले महिला के शरीर से निकाल दी थी गर्भनली, अब बनी चौथे बच्चे की मां

बांझपन की शिकार महिलाओं का गर्भवती होना असंभव माना जाता है, लेकिन अमेरिका के कंसास शहर में एक ऐसा चमत्कार हुआ है जिस पर यकीन करना जरा मुश्किल है.

अमेरिका के कंसास शहर में एक ऐसा चमत्कार हुआ है जिस पर यकीन करना मुश्किल अमेरिका के कंसास शहर में एक ऐसा चमत्कार हुआ है जिस पर यकीन करना मुश्किल

अमेरिका के कंसास शहर में 39 वर्ष की एक महिला के गर्भाशय में फैलोपियन ट्यूब्स न होने के बावजूद उसने एक बच्चे को जन्म दिया है.

तीन बच्चों की मां एलिजाबेथ कुघ की ओवरी से जुड़ने वाली गर्भाशय की दोनों ट्यूब आज से चार साल पहले एक ऑपरेशन के दौरान निकाल दी गई थी. इसके बाद महिला का प्रेग्नेंट होना असंभव था, लेकिन पिछले साल यह महिला प्रग्नेंट भी हुई और अब अपने चौथे बच्चे बेंजामिन को सफलतापूर्वक जन्म भी दिया.

बेंजामिन के जन्म को डॉक्टर्स खुद एक चमत्कार बता रहे हैं. बच्चे के जन्म के बाद डॉक्टर्स ने संतुष्टि के लिए दोबारा गर्भाशय की जांच की जिसमें उन्हें गर्भ नलिका नहीं मिली. डॉक्टरों ने बताया कि एलिजाबेथ के चौथे बच्चे बेंजामिन का जन्म के वक्त वजन 7 पाउंड था.

चार साल पहले हुआ था ऑपरेशन

साल 2015 में एक ऑपरेशन में एलिजाबेथ की गर्भ नलिका निकाल दी गई थी. एलिजाबेथ को कैंसर से बचाने के लिए उसका ऑपरेशन किया गया था. उसे ओवरियन कैंसर था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें