scorecardresearch
 

इंसान की सेहत का दुश्मन नहीं स्मार्टफोन! हेल्थ मॉनिटर करने में मददगार

बिना किसी वियरेबल डिवाइस की मदद के स्मार्टफोन इंसान की हार्ट बीट्स और स्ट्रेस लेवल के बारे में सही जानकारी दे सकता है.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

स्मार्टफोन के बहुत ज्यादा इस्तेमाल को इंसान के लिए खतरनाक बताया जाता है. लेकिन एक नए शोध के मुताबिक स्मार्टफोन लोगों की हेल्थ को मॉनिटर करने और उसकी सही रिपोर्ट देने में मददगार है. बिना किसी वियरेबल डिवाइस की मदद के स्मार्टफोन इंसान की हार्ट बीट्स और स्ट्रेस लेवल के बारे में सही जानकारी दे सकता है.

इटली के प्रोफेसर एनरिको कैआनी के नेतृत्‍व में हुए  शोध में बताया गया है कि स्‍मार्टफोन इंसान के स्वास्थ्य की देखभाल में मील का पत्थर साबित हो सकता है. इसकी मदद से मानसिक और शारीरिक तनाव से जूझ रहे लोगो आसानी से अपनी हेल्थ को मॉनिटर कर सकते हैं. किसी और पर निर्भर रहने की बजाए रोगी खुद अपने ख्याल रख सकते हैं.

इटली के पोलीटेक्‍नो डी मिलाने के इस शोध में पेट की गड़बड़ी के बारे में पता लगाने के लिए स्‍मार्टफोन में बैली बटन इंस्‍ट्रूमेंट का प्रयोग किया गया. एब्‍डोमेन में रातभर होने वाली क्रियाओं को जब स्टडी किया गया तो इसके सिग्‍नल से दिल की धड़कन और स्‍ट्रेस लेवल को भी समझने में मदद मिली है.

इसके बाद यह स्पष्ट हो गया कि स्‍मार्टफोन में इंस्‍ट्रूमेंट के इस्‍तेमाल से भी मानिसक और शारीरिक तनाव के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है. इसकी मदद से तनाव बढ़ने पर उसका सही ट्रीटमेंट लेने में भी आसानी हो जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें