scorecardresearch
 

ज्यादा शराब पीने के बाद उल्टियां क्यों करते हैं लोग? कुछ बातें जो आपको जाननी चाहिए

लोगों को शराब पीकर उल्टी करते आपने कई बार देखा होगा. आपने ये भी सुना होगा कि उल्टी करने से नशा उतर जाता है. लेकिन क्या आपको पता है शराब पीकर लोगों को उल्टी क्यों हो जाती है? क्या सच में उल्टी करने से शराब का नशा कम हो जाता है? आइए जानते हैं इन बातों में कितनी सच्चाई है.

X
फिल्म Dev D का सीन
फिल्म Dev D का सीन

ज्यादा शराब पीने से लोग अक्सर उल्टियां करते नजर आते हैं. इससे तात्कालिक राहत मिल जाती है, इसलिए कुछ लोग जबरन उल्टी करने की कोशिश करते हैं ताकि नशा उतर जाए और वे बेहतर महसूस कर सकें. वहीं, कुछ लोग ज्यादा नशा हो जाने पर या तो सो जाते हैं या सोने की कोशिश करते हैं. शर्मिंदगी से बचने के लिए का यह एक स्वाभाविक रास्ता नजर आता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसा करना न केवल सेहत के लिए बेहद नुकसानदायक है, बल्कि कई बार जानलेवा भी साबित हो सकता है. ऐसा क्यों है, आइए समझते हैं. 

ज्यादा पीने पर क्यों होती है उल्टी 
अक्सर ज्यादा मात्रा में पीने, जल्दी-जल्दी पीने या खाली पेट शराब पीने के बाद उल्टियां होती है. हालांकि, यह कोई बीमारी नहीं है. दरअसल, हमारे शरीर का डिफेंस मैकेनिज्म एल्कॉहल को जहर मानते हुए शरीर के बाहर करने की कोशिश करता है. वैज्ञानिक भाषा में समझें तो शरीर में एल्कॉहल जाने के बाद लिवर पहले इसे एक जहरीले केमिकल एसेटएल्डिहाइड में तब्दील करता है, जो सेहत के लिए बेहद नुकसानदायक होता है. इसके बाद लिवर, एसेटएल्डिहाइड को एसिटेट में बदलता है. बाद में यह शरीर से पानी और कार्बन डाई ऑक्साइड में तब्दील होकर बाहर निकल जाता है. यहां समझना जरूरी है कि लिवर की भी एक क्षमता है. अगर एसेटएल्डिहाइड का स्तर एक निश्चित मानक से ऊपर चला जाए तो शरीर अतिरिक्त केमिकल को उल्टी के जरिए बाहर करने की कोशिश करता है. वहीं, शराब के हमारे पेट के एनजाइम सिस्टम के संपर्क में आकर भी बहुत ज्यादा मात्रा में टॉक्सिक केमिकल पैदा होते हैं, जिसे बाहर करने के लिए उल्टियां होना स्वाभाविक है. 

शराब पीने के बाद क्यों होती है उल्टी (Pic Credit: Getty)
शराब पीने के बाद क्यों होती है उल्टी (Pic Credit: Getty)

उल्टी से नहीं उतरता नशा 
बहुत सारे लोगों को ऐसा लगता है कि ज्यादा शराब पीने के बाद होने वाली उल्टियों से राहत मिलती है और नशा जल्दी उतर जाता है. ये बात पूरी तरह से सही नहीं है. दरअसल, उल्टी करने से पेट से शराब का कुछ हिस्सा भले बाहर निकल आए लेकिन खून में घुली शराब की मात्रा कभी कम नहीं होगी. शराब के शरीर में जाते ही जहां कुछ हिस्सा लिवर के जरिए पचकर यूरीन से बाहर कर दिया जाता है. वहीं, दूसरी ओर शरीर की रक्त वाहिकाओं से गुजरकर शराब इंसान के खून में मिलती रहती है, जिससे उसे नशा महसूस होता है. यह प्रक्रिया काफी तेज होती है, इसलिए उल्टी करने से राहत मिलती महसूस होती है, लेकिन नशा नहीं उतरता. 

उल्टी करने पर अच्छा महसूस क्यों होता है 
बहुत ज्यादा पीने से उल्टी करने की भावना (nausea)तेज हो जाती है. इसलिए अक्सर एकाध बार उल्टी करने के बाद इंसान को जरा सी राहत महसूस होती है. मेडिकल एक्सपर्ट्स के मुताबिक, ज्यादा शराब से उत्पन्न हुए जहरीले पदार्थों की वजह से शरीर में डोपामाइन, हिस्टामाइन, सिरोटोनिन जैसे केमिकल रिलीज होते हैं. इन केमिकल्स से डायाफ्राम और पेट के मसल्स में सिकुड़न पैदा होती है, जिससे उल्टी होती है और शरीर को संतुष्टि मिलती है कि जहरीले पदार्थों से मुक्ति मिल चुकी है. दरअसल, उल्टी होने के बाद शरीर में एंडोरफिन्स  (endorphins) नामक केमिकल निकलता है, जिसकी वजह से कम तनाव और तकलीफ महसूस होती है.  

ज्यादा शराब पीकर सोना जानलेवा! 
कुछ लोग ओवर ड्रिंकिंग के बाद चक्कर आने या उल्टी से राहत पाने के लिए सोने की कोशिश कर सकते हैं. ज्यादा शराब पीने से भले ही नींद जल्दी आ जाए लेकिन वो अच्छी नहीं होगी. वहीं, सोने के दौरान भी ब्लड एल्कॉहल का स्तर बढ़ा ही रहेगा. और तो और, मेडिकल एक्सपर्ट्स का यह भी मानना है कि बहुत ज्यादा नशे में होने के बाद सोने की कोशिश करना जानलेवा भी साबित हो सकता है. दरअसल, एल्कॉहल के प्रभाव से सांस घुटने पर प्रतिक्रिया देने वाला शरीर का मैकेनिज्म मंद पड़ जाता है. नींद के दौरान भी उल्टी हो सकती है, जिसके बाद गला चोक होकर इंसान की मौत हो सकती है.

शराब पीकर सोना जानलेवा
शराब पीकर सोना जानलेवा

तो उल्टियां रोकने के लिए क्या करें 
जानबूझकर उल्टी करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए वर्ना इससे पेट की मांसपेशियों को बड़ा नुकसान पहुंच सकता है. वहीं सोने से पहले थोड़ा इंतजार करें जब तक कि सामान्य महसूस न करने लगें. फिर सोने से पहले कम से कम एक गिलास भरकर पानी पीएं. यह एल्कॉहल की वजह से शरीर में होने वाले डिहाईड्रेशन को रोकने में मदद करेगा. वहीं, सिरहाने पानी की एक बोतल जरूर रख लें ताकि देर रात नींद खुलने पर दोबारा पर्याप्त मात्रा में पानी पी सकें.  कई बार नींद खुलने पर तेज प्यास के बावजूद लोग आलस्य के मारे पानी नहीं पीते. वहीं, बेड के नजदीक कोई बाल्टी, कूड़ेदान या बड़ा बर्तन रखें ताकि उल्टी आने की दशा में इस्तेमाल कर सकें. इसके अलावा, पीने के दौरान या बाद में किसी भी हालत में नींद की कोई दवा न लें. 

सुबह उठने के बाद क्या करें 
सिरदर्द के लिए डॉक्टर की सलाह से कोई पेन रिलिवर ले सकते हैं. पानी बहुत ज्यादा मात्रा में पीएं ताकि डिहाइड्रेशन की कोई गुंजाइश न हो. विटामिन और मिनरल्स युक्त बहुत सारे स्पोर्ट्स ड्रिंक्स उपलब्ध हैं, उन्हें भी पीते रहें. थोड़ी मात्रा में ब्लैक कॉफी का भी सेवन कर सकते हैं. ज्यादा सिरदर्द होने पर सिर पर बर्फ से सिंकाई कर सकते हैं. कुछ स्वयंभू विद्वान हल्की मात्रा में शराब पीकर हैंगओवर खत्म करने की भी सलाह देते हैं, लेकिन ऐसा बिलकुल मत करें. इसके अलावा, कम तली भुनी और बिना मसाले वाली चीजें थोड़ी थोड़ी खाएं. इससे भी बेहतर महसूस होगा.

 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें