scorecardresearch
 

Jokes: चिंटू दर्जी के पास पैंट सिलवाने गया, फिर हुआ कुछ ऐसा कि पढ़कर आ जाएगी हंसी!

Jokes Hindi: मुस्‍कुराना जीवन में बहुत जरूरी है, कई बार खुलकर हंसना भी जरूरी है. चुटकुले पढ़कर और सुन कर माइंड रिफ्रेश होने के साथ चेहरे पर हंसी बनी रहती है. ऐसे ही मजेदार खास चुटकुलें आपके बीच पेश कर रहे हैं. 

Jokes: जिस तरह आप नियमित खाना खाते हैं, ठीक उसी तरह नियमित हंसना भी चाहिए. हंसने के लिए किसी वजह की जरूरत नहीं है. झूठी हंसी भी हंस सकते हैं. फेक स्माइल भी तनाव और बेचैनी को कम करने का काम करती है. यह आपका मन शांत रखने में मदद करती है. आज-कल तो फेक लाफ्टर थैरेपी भी काफी चलन में है. इसके अलावा, चुटकुले भी हंसने में आपकी काफी मदद करते हैं. पढ़ें ये मजेदार जोक्स...

रोहित कॉलेज से जल्दी घर आ गया....
मां: क्या हुआ बेटा, आज जल्दी घर आ गए.
रोहित : हां मां, मैंने एक मक्खी को मार दिया, तो मैडम ने भगा दिया.
मां: क्या? एक मक्खी को मारने पर कॉलेज से भगा दिया.
रोहित : मक्खी मैडम के गाल पर बैठी थी .

> लड़की ने अचानक ही लड़के को थप्पड़.जड़ दिया
लड़का तिलमिला उठा और पूछा- मैंने क्या गलती की?
लड़की - तुम कोई गलती करो, उसके लिए मैं इंतजार थोड़े ही करती रहूंगी...

ऐसे ही मजेदार जोक्स पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें Jokes in Hindi 

> चिंटू दर्जी के पास गया और उससे पूछा- पैंट की सिलाई कितने की है?
दर्जी - 300 रुपए...
चिंटू  - और निक्कर की...?
दर्जी - 100 रुपए...
चिंटू  (कुछ देर सोचकर) - तो फिर निक्कर ही सिल दो, बस लंबाई पैरों तक कर देना...

> हाईस्कूल में पढ़ने वाली दो लड़कियां आपस में बातें कर रही थीं.
पहली लड़की- यार, मेरे पापा ने कहा है कि इस बार अगर परीक्षा में फेल हुई तो तेरी शादी कर दूंगा.
दूसरी लड़की- तो तुमने कितनी तैयारी की है?
पहली लड़की- बस, रिसेप्शन की ड्रेस लेनी बाकी है.... 

> भिखारी : दादी, रोटी दे दीजिए खाने के लिए!
दादी : अभी बनी नहीं है, बाद में आना...
भिखारी : ठीक है फिर यह लो मेरा मोबाइल नंबर, बन जाए तो मिस कॉल कर देना!
दादी : अरे मिस कॉल क्या करना, व्हॉट्सएप है न… उस पर डाल दूंगी, डाउनलोड कर लेना!

(डिस्क्लेमरः इस सेक्शन के लिए चुटकुले वॉट्सऐप व अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर हो रहे पॉपुलर कंटेंट से लिए गए हैं. इनका मकसद सिर्फ लोगों को थोड़ा... गुदगुदाना है. किसी जाति, धर्म, मत, नस्ल, रंग या लिंग के आधार पर किसी का उपहास उड़ाना, उसे नीचा दिखाना या उसपर टीका-टिप्पणी करना हमारा उद्देश्य बिल्‍कुल भी नहीं है)  

ये भी पढ़ें - 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×