scorecardresearch
 

निजी हाथों में जा रहीं 150 ट्रेनें और 50 स्टेशन, इस कमेटी को सौंपी गई जिम्मेदारी

रेलवे ने डेढ़ सौ ट्रेनों और 50 रेलवे स्टेशनों के निजीकरण के लिए एंपावर्ड ग्रुप ऑफ सेक्रेट्रीस का गठन कर दिया है. आखिरकार ट्रेनों के निजीकरण के मामले में ऐसा क्यों किया गया है यह जानने के लिए हमारे संवाददाता सिद्धार्थ ने रेलवे बोर्ड के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर आरडी वाजपेई से खास बातचीत की. देखें वीडियो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें