scorecardresearch
 

पीएम मोदी के भाषण का पूरा विश्लेषण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आजादी की 71वीं वर्षगांठ के मौके पर लालकिले की प्राचीर से चौथी बार भाषण दिया. मोदी ने अपने भाषण में उन मुद्दों को उठाया जिनपर वह सहज थे, सीधे तौर पर कहा जाए तो यह सुविधा का भाषण था. सरकार के अनुकूल रही बातों का जिक्र पीएम मोदी ने विस्तार से किया लेकिन प्रतिकूल बातों को वह छूकर के निकल गए.पीएम मोदी ने भाषण में बाढ़ पर फोकस किया लेकिन गोरखपुर के दर्दनाक हादसे जिक्र करते हुए आगे बढ़ गए. कश्मीर मुद्दे पर मोदी ने कहा कि कश्मीर समस्या का समाधान न गाली से, न गोली से, बल्कि हर कश्मीरी को गले लगाकर ही किया जा सकता है. इस बयान से साफ है कि घाटी में सत्ता की सहयोगी पीडीपी के कड़े रुख के बावजूद पीएम मोदी और बीजेपी कश्मीर की सत्ता में कायम रहना चाहती है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें