scorecardresearch
 

अंबेडकर को अपनाया-साथ खाना खाया फिर दलित क्यों रूठे सरकार से

मोदी सरकार का चार साल का कार्यकाल पूरा हो गया. इस दौरान सरकार ने समाज के उन तबकों तक पहुंच बनाने और उनका भरोसा जीतने की कोशिश की जो बीजेपी के परंपरागत वोटर नहीं माने जाते. देश का दलित समुदाय भी ऐसा ही एक तबका है. दलितों को लुभाने की सरकार ने कई कोशिशें कीं मगर वह कितनी कामयाब हुई? इस सवाल का जवाब तलाशने के लिए दलित मुद्दों के कई जानकारों से बात की गई. देखें वीडियो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें