scorecardresearch
 

दूसरों के लिए जीने वाली फूलबासन सम्मानित

दूसरों के लिए जीने वाली फूलबासन सम्मानित

अपने लिए तो हर कोई जीता हैं पर दूसरों के लिए जो जिए वही है असली इंसान, कुछ ऐसा ही मानती हैं छत्तीसगढ़ में रहने वाली फूलबासन यादव, जिन्होंने पढ़े लिखे ना होने के बावजूद अपने गावों की महिलाओं के उत्थान के लिए कई कार्य किए हैं और उनके सराहनीय कार्यों के लिए उन्हें एस आर जिंदल प्राइज 2012 से सम्मानित किया गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें