scorecardresearch
 

गन्ने के खेत में अजगर ने दिए दो दर्जन से अधिक अंडे, इलाके में मचा हड़कंप

धम सिंह नगर की गडरी नदी किनारे के सुनसान इलाके के एक खेत में मादा अजगर ने अंडे दिए. ग्रामीणों ने खेत में गन्ने की पत्तियों के बीच एक बड़ी मादा अजगर को पाया और उन लोगों ने देखा कि मादा अजगर के पास दो दर्जन अंडे भी रखे हुए हैं.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • सोशल मीडिया पर वायरल मादा अजगर का वीडियो
  • वन विभाग की टीम ने अजगर और अंडों को किया रेस्क्यू

लॉकडाउन में देश भर से अजब ग़जब तस्वीरें सामने आ रहीं हैं जोकि आपको हैरत में डाल देंगी. इसी प्रकार का एक मामला उत्तराखंड के उधम सिंह नगर में देखने को मिला. जहां मादा अजगर ने एक गन्ने के खेत में दो दर्जन से अधिक अंडे दिए, जिसके बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया.

जब इस मामले की सूचना इलाके के लोगों को लगी तो अंडे और अजगर को देखने वालों का तांता लग गया. हंगामे के बीच प्रशासन और वन विभाग की टीमों ने अजगर और अंडों को रेस्क्यू कर उन्हें सुदूर जंगल में सुरक्षित छोड़ दिया है. अजगर और उसके अंडे का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.

अमेरिका में पढ़ रहे हजारों चीनी छात्रों को बाहर निकालने की तैयारी

उधम सिंह नगर की गडरी नदी किनारे के सुनसान इलाके के एक खेत में मादा अजगर ने अंडे दिए. ग्रामीणों ने खेत के गन्ने की पत्तियों के बीच एक बड़ी मादा अजगर को पाया और उन लोगों ने देखा कि मादा अजगर के पास दो दर्जन अंडे भी रखे हुए हैं. इस बात की जानकारी से इलाके में हंगामा मच गया. दूर-दूर से लोग मादा अजगर को देखने आने लगे. इस पूरे मामले का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

वायरल वीडियो ने इस जीव और अंडों की सुरक्षा और रेस्क्यू को लेकर आवाज उठा दी. जिसके बाद शीर्ष वनाधिकारियों ने तराई पश्चिमी वन प्रभाग के डीएफओ स्तर से रेस्क्यू टीम बनाकर अजगर और अंडों को सुरक्षित लाने के निर्देश जारी कर दिए. परिश्चमी वन प्रभाग की टीम ने मादा अजगर को पकड़ा और उसे एक बोरे में बंद कर दिया. इस विशालकाय मादा अजगर को पकड़ने में भी विभागीय टीम को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

चीन के साथ तनाव के बीच वायुसेना का चिनूक हेलिकॉप्टर असम में तैनात

डीएफओ तराई वन विभाग हिमांशु बागड़ी ने मादा अजगर के सभी अंडे सुरक्षित और सही हालात में बन्नाखेड़ा वन क्षेत्र में पहुंचा दिए हैं. पूर्व की स्थिति की तरह नदी किनारे एक बेहद सुरक्षित स्थल पर अंडों को उसी तरह संभालकर रख दिए गए जैसे कि पहले गन्ने के खेत में रखे हुए थे और बाद में शांत मादा अजगर को भी छोड़ दिया गया. अंडों पर नजदीक से निगाह बनाये रखने का भी आश्वासन दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें