scorecardresearch
 

UP: योगी सरकार 22 करोड़ पौधे लगाकर बनाएगी वर्ल्ड रिकॉर्ड

योगी सरकार उत्तर प्रदेश के 822 ब्लॉक, 58924 ग्राम पंचायत और 652 नगर निकायों में 22 करोड़ पौधे लगाकर विश्व रिकॉर्ड बनाने जा रही है. गांव में रहने वाले किसानों और खेती करने वाले दूसरे लोगों के लिए उनकी जरूरत और पसंद के मुताबिक पौधे दिए गए हैं.

सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo-India Today) सीएम योगी आदित्यनाथ (Photo-India Today)

भारत छोड़ो आंदोलन की 77वीं वर्षगांठ पर उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को सरकार 22 करोड़ पौधे लगाएगी. इस पौधरोपण के महाकुंभ में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पौधरोपण महाकुंभ का शुभारंभ करेंगे. राज्यपाल कासगंज के सोरों ब्लाक में और मुख्यमंत्री लखनऊ के जयति खेड़ा में हरिशंकर पौधे लगाकर इस अभियान की शुरुआत करेंगे.

इसके अलावा पूरे प्रदेश में मंत्रियों और वरिष्ठ अफसरों के जरिए उत्तर प्रदेश सरकार इस अभियान को पूरा करेगी. इसके अलावा शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रयागराज के परेड ग्राउंड में एक ही जगह पर 8 घंटे तक खड़े होकर पौधों का वितरण करेंगे जो कि निशुल्क होगा. यह अपने आप में एक विश्व रिकॉर्ड होगा. इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी शामिल किया जाएगा.

इस पूरे पौधरोपण कार्यक्रम को प्रदेश के 822 ब्लॉक, 58924 ग्राम पंचायतों और 652 नगर निकायों से जोड़ने के लिए माइक्रो प्लान बनाया गया है. इसके तहत गांव में रहने वाले किसानों और खेती करने वाले दूसरे लोगों के लिए उनकी जरूरत और पसंद के मुताबिक पौधे दिए जा रहे हैं. ताकि वह उनके अनुसार पौधरोपण कर सकें. इस कार्यक्रम के लिए मुख्यमंत्री निधि से 100 करोड़ रुपए दिए गए हैं.

इस कार्यक्रम सफल बनाने के लिए हर क्षेत्र के विधायक और मंत्रियों को इसे अपने इलाके में सफल बनाने के निर्देश दिए गए हैं. इस अभियान के तहत ज्यादा से ज्यादा जो पौधे लगाए जाएंगे उनके नाम आम, बरगद, नीम, साल, महुआ, कल्पवृक्ष, सहजन, इमली, पीपल, सागौन, यूकेलिप्टस, जामुन, अमरूद, शीशम, अर्जुन, खैर, बांस और बेर प्रजाति के पौधे हैं.

इस पूरे प्लांटेशन अभियान की मॉनिटरिंग नर्सरी मैनेजमेंट सिस्टम और मोबाइल ऐप के जरिए हो रही है. पौधों की 'जियो टैगिंग' भी होगी. प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पंजीकृत किसानों और विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को भी पौधारोपण अभियान में जोड़ा जाएगा.

अवध के जिलों में जिन अधिकारियों को जिम्मा दिया गया है उनमें से मुख्य रूप से अपर मुख्य सचिव वाणिज्यकर आलोक सिन्हा, अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार, प्रमुख सचिव व्यवसायिक शिक्षा राधा चौहान, प्रमुख सचिव युवा कल्याण डिंपल वर्मा, आयुक्त रजनीश गुप्ता, प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार, प्रमुख सचिव सचिवालय और स्थापना संजय प्रसाद आदि हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें