scorecardresearch
 

24 लाख का गबन करने के लिए किया अपहरण का नाटक, जीजा-साले गिरफ्तार

आरोपियों की निशादेही पर गबन किए गए 23 लाख 54 हजार रुपये पुलिस ने बरामद कर लिए हैं. आरोपी ने पूछताछ में अपने ऊपर अधिक कर्ज हो जाने की जानकारी दी है.

पुलिस गिरफ्त में आरोपी पुलिस गिरफ्त में आरोपी

  • पत्नी ने दर्ज कराया गुमशुदगी का केस
  • आरोपी की निशानदेही पर रुपये बरामद

गाजियाबाद पुलिस ने हाल ही में ऑपरेशन 420 शुरू किया है. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने इस ऑपरेशन के तहत जालसाजी और धोखाधड़ी में लिप्त लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. इसी ऑपरेशन के तहत पुलिस ने 23.78 लाख रुपये का गबन करने के लिए अपने अपहरण का नाटक करने वाले जीजा-साले को गिरफ्तार किया है. यह मामला विजयनगर थाना क्षेत्र का है.

जानकारी के मुताबिक न्यू शांति नगर निवासी ममता ने अपने पति के अचानक गायब हो जाने का मुकदमा विजयनगर थाने में दर्ज कराया था. पुलिस को शुरू से ही दाल में कुछ काला नजर आ रहा था, लिहाजा पुलिस ने जांच शुरू की. इसी दौरान क्रॉसिंग रिपब्लिक में रहने वाले विकास जैन ने भी सूचना दी कि मेरी अंकित विनीत स्टील उद्योग नाम से लोहा मंडी में सरिया सीमेंट की फर्म है. मेरी फर्म का कर्मचारी दिनेश व्यापारियों से कलेक्शन करके 23 लाख 78 हजार रुपये लेकर आते समय 13 अगस्त को अचानक गायब हो गया और अपना फोन स्विच ऑफ कर लिया है.

लाल किले से चीन-पाक पर बोले पीएम मोदी- जिसने भी आंख उठाई, माकूल जवाब दिया

एसएसपी गाजियाबाद कलानिधि नैथानी ने बताया कि पुलिस टीम ने सर्विलांस, मैनुअल सूचना, संकलित किए गए साक्ष्य से पाया कि कलेक्शन एजेंट दिनेश और उसके साथी पप्पू ने साजिश कर दिनेश के अपहरण का नाटक किया. करीब 24 लाख की धनराशि कलेक्शन एजेंट दिनेश ने अपने साथी पप्पू के साथ मिलकर गबन कर ली है. झूठी सूचना देकर धोखाधड़ी और गबन करने के जुर्म में पुलिस ने दिनेश व उसके साथी पप्पू को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

क्या है प्रोजेक्ट डॉल्फिन, जिसके लॉन्च का PM मोदी ने लाल किले से किया ऐलान

एसएसपी के मुताबिक आरोपियों की निशादेही पर गबन किए गए 23 लाख 54 हजार रुपये पुलिस ने बरामद कर लिए हैं. एसएसपी नैथानी के अनुसार दिनेश ने पूछताछ में अपने ऊपर अधिक कर्ज हो जाने की जानकारी दी और बताया कि इतनी रकम देखकर उसे लालच हो गया. कर्ज से निजात पाने के लिए और यह रकम गबन करने के लिए अपने गायब होने की योजना बनाई और अपना फोन बंद कर लिया. पुलिस के मुताबिक दिनेश ने योजना के तहत रुपये रिश्ते में अपने साले पप्पू के यहां अलीगढ़ में सुरक्षित रख दिए.

स्वतंत्रता दिवस पर चीन की बधाई, कहा- शांति और दोस्ती के साथ आगे बढ़ेंगे

पुलिस के मुताबिक आरोपी ने बताया कि रुपये सुरक्षित रख उसने अपहरण का नाटक किया, जिससे उस पर किसी को शक न हो. मामला ठंडा हो जाने पर वह ये पैसे लाकर कर्ज अदा करता. लेकिन इससे पहले ही वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया. पकड़े गए जीजा-साले को संबंधित धाराओं में जेल भेज दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें