scorecardresearch
 

अयोध्या में विकास के कामों में तेजी, नगर निगम का होगा विस्तार

राम की नगरी अयोध्या में नगर निगम का विस्तार होगा. नगर निगम सीमा से जुड़े 41 गांवों को अयोध्या नगर निगम में शामिल किया जाएगा. इन गांवों का शहर की तमाम सुविधाओं के साथ विकास किया जाएगा.

अयोध्या में सीएम योगी (तस्वीर- PTI) अयोध्या में सीएम योगी (तस्वीर- PTI)

राम की नगरी अयोध्या में नगर निगम का विस्तार होगा. नगर निगम सीमा से जुड़े 41 गांवों को अयोध्या नगर निगम में शामिल किया जाएगा. इन गांवों का शहर की तमाम सुविधाओं के साथ विकास किया जाएगा.

इसके लिए शासन को प्रस्ताव भेजा गया है. प्रस्ताव के मुताबिक, नगर निगम में मेडिकल कॉलेज, अंबेडकर स्टेडियम और एयरपोर्ट शामिल होगा. अयोध्या मे विकास को तेजी देने के लिए नगर निगम का विस्तार हो रहा है.

इधर, केंद्र सरकार ने अयोध्या में राममंदिर के निर्माण की देखरेख के लिए ट्रस्ट के गठन की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है. सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले पर मालिकाना हक को लेकर दिए गए फैसले में इसका आदेश दिया था. गृह व वित्त मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी ट्रस्ट के गठन व उसके नियमों को तय करने का हिस्सा होंगे.

सूत्रों के अनुसार, सरकार शीर्ष कोर्ट के अयोध्या पर फैसले का अध्ययन कर रही है और नौकरशाहों की एक टीम तकनीकी पक्ष व बारीकियों का अध्ययन कर रही है.

सूत्रों ने कहा कि वरिष्ठ कानून अधिकारी जैसे अटॉर्नी जनरल के.के.वेणुगोपाल से इस मुद्दे पर सलाह ली जाएगी.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "कानून मंत्रालय व एटॉर्नी जनरल से राय ली जाएगी कि ट्रस्ट का गठन कैसे किया जाए."

शनिवार को दिए गए ऐतिहासिक फैसले में सुप्रीम कोर्ट के पांच न्यायाधीशों की पीठ ने सर्वसम्मति से फैसला सुनाया कि विवादित 2.77 एकड़ जमीन मंदिर निर्माण के लिए रामलला को दी जाएगी.

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता में पीठ ने सरकार को इसके लिए ट्रस्ट स्थापित करने के लिए तीन महीने का समय दिया. मुस्लिम पक्ष को मस्जिद निर्माण के लिए प्रमुख जगह पर 5 एकड़ जमीन देने का आदेश दिया गया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें