scorecardresearch
 

वाराणसीः पुल की शटरिंग गिरने पर कांग्रेस बोली- कितने लोगों की जान लेगी बीजेपी सरकार

अजय राय ने कहा कि देश के सबसे बड़े नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां से सांसद हैं, लेकिन कोई काम नहीं हो रहा है. इस मामले में सिर्फ छोटे लोगों पर कार्रवाई होती है.

निर्माणाधीन पुल की शटरिंग गिरी थी (फोटो-Twitter) निर्माणाधीन पुल की शटरिंग गिरी थी (फोटो-Twitter)

  • कांग्रेस नेता अजय राय अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं
  • मई 2018 में फ्लाईओवर की हिस्सा गिरा था, कई लोग मारे गए
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में कांग्रेस ने मोर्चा खोल दिया है. पूर्व विधायक और कांग्रेस नेता अजय राय ने कैंट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन फ्लाईओवर की शटरिंग गिरने पर बीजेपी को घेरा. दरअसल शुक्रवार को इस पुल की शटरिंग  गिर गई थी जिससे सेना के एक जवान का पैर टूट गया और कई लोग घायल हो गए. अजय राय ने ट्वीट किया 'चोट के ऊपर चोट बहुत घातक होती है. भाजपा की यह सरकार न जाने कितने लोगों के अपराध छुपाएगी और बनारस के कितने मासूमों की जान लेगी ! बीच शहर में इतनी बड़ी घटना का जिम्मेदार कौन ?? यह जानने के लिए कांग्रेस पार्टी का अनिश्चितकालीन धरना एक सकारात्मक निष्कर्ष तक जारी रहेगा.'

अजय राय ने कहा कि जनता की सुविधा के लिए 8 साल से पुल बना रहा है. इस फ्लाइओवर के बनने के दौरान पहली घटना 15 मई को हुई थी तब 15 लोगों की जान गई थी. शुक्रवार को फिर दूसरी बार घटना घटी है. इसमें सेना के एक जवान का पैर टूट गया. उन्होंने कहा कि भगवान का शुक्र है जवान की जान बच गई. इस लापरवाही के लिए जो मूल रूप से जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो रही है.

अजय राय ने कहा कि देश के सबसे बड़े नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां से सांसद हैं, लेकिन कोई काम नहीं हो रहा है. इस मामले में सिर्फ छोटे लोगों पर कार्रवाई होती है. बड़ी मछलियां पर कोई एक्शन नहीं लिया जाता है. ऐस में इस घोटाले को लेकर कांग्रेस पार्टी ने धरना शुरू किया है, जो एक निश्चित निस्तारण के बाद ही समाप्त होगा.     

बता दें कि शुक्रवार को वाराणसी कैंट स्टेशन के सामने निर्माणाधीन फ्लाईओवर की शटरिंग गिरने से अफरा-तफरी मच गई थी. इसमें कुछ लोग घायल हो गए थे. इस फ्लाईओवर के निर्माण में शुरुआत से ही कई बार अड़चनें आईं और कई बार हादसे भी हुए. मई 2018 को फ्लाईओवर की दो बीम गिरने से कई लोगों की मौत हो गई थी. इस हादसे के बाद भी प्रशासन ने सबक नहीं लिया, इसके चलते एक बार फिर शुक्रवार को हादसा हो गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें