scorecardresearch
 

यूपी पंचायत चुनाव: दो बार सांसद रहीं BJP की रीना चौधरी को सपा की पलक रावत ने हराया

मोहनलालगंज की पूर्व सांसद रीना पहले सपा से ही जुड़ी हुई थीं जो बाद में भाजपा में शामिल हो गईं. वहीं सपा समर्थित प्रत्याशी ने ही उन्हें चुनाव में हरा दिया है.

यूपी पंचायत चुनाव के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं.(फाइल फोटो) यूपी पंचायत चुनाव के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं.(फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मोहनलालगंज की पूर्व सांसद रीना चौधरी हारीं
  • सपा समर्थित उम्मीदवार पलक रावत ने हराया

उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना जारी है. यूपी के अलग-अलग जिलों से अचंभित करने वाले परिणाम भी देखने को मिल रहे हैं. यूपी की राजधानी लखनऊ में दो बार सांसद रह चुकीं बीजेपी प्रत्याशी रीना चौधरी को सपा समर्थित पलक रावत ने जिला पंचायत वार्ड संख्या 15 से शिकस्त  देकर सबको चौंका दिया है.

मोहनलालगंज की पूर्व सांसद रीना पहले सपा से ही जुड़ी हुई थीं जो बाद में भाजपा में शामिल हो गईं. वहीं सपा समर्थित प्रत्याशी ने ही उन्हें चुनाव में हरा दिया है.

जिला पंचायत वार्ड नंबर 15 से जीतने वाली सपा समर्थित उम्मीदवार पलक रावत ने लगभग 2 हजार से अधिक वोटों से दो बार सांसद रह चुकीं भाजपा उम्मीदवार रीना चौधरी को मात दी है. पलक रावत को कुल 8 हजार 834 मत प्राप्त हुए हैं जबकि हारने वाली बीजेपी कैंडिडेट रीना चौधरी को कुल 6 हजार 735 वोट मिले हैं. वह 2099 वोटों से हार गई हैं.

दरअसल, जिला पंचायत अध्यक्ष की सीट इस बार महिला एससी आरक्षित थी. भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार रीना चौधरी को ये चुनाव जीतकर आगे जिला पंचायत अध्यक्ष बनने की उम्मीद थी, लेकिन सपा समर्थित पलक रावत ने उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया.

इसके अलावा लखनऊ के चिनहट वार्ड-1 से जिला पंचायत चुनाव में बसपा की शशि बाला ने जीत दर्ज की है. गौरतलब है कि लखनऊ में जिला पंचायत सदस्य के कुल 25 पद हैं.

उधर, मोहनलालगंज से सपा विधायक अम्बरीश पुष्कर ने आरोप लगाया कि सूर्या कंपाउंड में मतगणना के दौरान ही कंपाउंड को खाली कराया गया और एजेंटों को बाहर किया गया. शासन के दवाब में जिला पंचायत का परिणाम रोका जा रहा है. सपा विधायक ने आरोप लगाते हुए कहा कि परिणामों में हेरफेर करने के लिए ऐसा किया जा रहा है. कुछ प्रत्याशियों का आरोप है कि भाजपा प्रत्याशियों को जीत दिलाने के लिए सारा प्रयास किया जा रहा है. मोहनलालगंज विधायक ने कहा कि अगर सही परिणाम घोषित नहीं किए गए तो समाजवादी पार्टी धरना प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होगी.
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें