scorecardresearch
 

UP: RSS के पथ संचलन पर फूलों की बारिश करना मुस्लिम डॉक्टर को पड़ा भारी, फतवा जारी!

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पथ संचलन पर फूलों की बारिश करने पर मुरादाबाद में एक मुस्लिम डॉक्टर के खिलाफ फतवा जारी किया गया है. इस मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.

X
स्वयं सेवकों पर फूलों की बारिश करते मुस्लिम डॉक्टर और गिरफ्तार आरोपी स्वयं सेवकों पर फूलों की बारिश करते मुस्लिम डॉक्टर और गिरफ्तार आरोपी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • डॉक्टर मोहम्मद निजाम भारती के खिलाफ फतवा
  • पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पथ संचलन पर फूलों की बारिश करना एक मुस्लिम डॉक्टर को भारी पड़ गया. इस डॉक्टर का नाम डॉ. मोहम्मद निजाम भारती है. उसके खिलाफ फतवा जारी कर उसका सामूहिक बहिष्कार करने का आदेश हुआ है. साथ ही उसे मारने पर एक लाख के इनाम की भी बात कही गई है.

मैनाठेर थाना क्षेत्र के महमूदपुर माफी के रहने वाले डॉ. मोहम्मद निजाम भारती पुलिस से शिकायत की है कि हाल ही में आरएसएस की पथ यात्रा निकाली गई थी, जिस पर हमारे द्बारा फूल बरसाए गए थे और उनका स्वागत किया गया था, जिससे नाराज़ इमरान ने हमारे खिलाफ फतवा जारी कर मुस्लिम समाज से हमारा सामूहिक बहिष्कार करा दिया है.

डॉ. मोहम्मद निजाम ने कहा कि जगह-जगह पर्चे बांटकर लोगों से हम स संबंध न रखने की बात कही गई है, साथ ही मुझे मारने व गांव से खदेडने पर इनाम भी रखा गया, फतवा जारी होने के बाद मुस्लिम समाज के लोग धीरे-धीरे मुझसे दूरियां बना रहे हैं और मेरा काम भी पूरी तरह से चौपट हो गया है.

डॉ. मोहम्मद निजाम भारती ने पुलिस को तहरीर देकर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया गया है. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. हालांकि कुछ ग्रामीणों में यह भी चर्चा है कि मामला आईपीएल के सट्टे से जुड़ा हुआ है. दोनों पक्षों के लोगों में आईपीएल का सट्टा खेले व खिलाये जाने को लेकर तकरार पैदा हुआ है.

इस मामले एसएसपी बबलू कुमार ने कहा, 'मेहमूदपुर माफी गांव के डॉक्टर निजाम की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है, इसमें बताया है कि इमरान वारसी ने उसके खिलाफ फतवा जारी किया है और उसके आधार पर मुकदमा दर्ज करते हुए इमरान गिरफ्तार करके जेल भेजा जा रहा है.'

फतवे के बारे में बताते हुए एसएसपी बबलू कुमार ने कहा, 'इसमें उनको मस्जिदों में ना जाने देने, इनको कस्बे से भगा दिए जाने के फतवे का आरोप है. तत्काल मुकदमा दर्ज करके आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें