scorecardresearch
 

यूपीः कोरोना काल में माता-पिता को खो चुके बच्चों को इसी माह मिलेगी बाल सेवा योजना की किस्त

हालांकि, महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से ये नहीं बताया गया है कि इस योजना के लाभार्थियों को किस्त का भुगतान इस महीने कितनी तारीख को किया जाएगा.

योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटोः पीटीआई) योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटोः पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • यूपी सरकार का दावा- योजना से 6000 बच्‍चे हुए लाभान्वित
  • माता-पिता या किसी एक को खो चुके बच्चे कर सकते हैं आवेदन

कोरोना काल में बहुत से ऐसे बच्चे थे, जिन्होंने अपने माता-पिता दोनों को खो दिया. कई बच्चों ने अपने माता या पिता में से किसी एक को खो दिया. ऐसे बच्चों के लिए सरकारों ने कई योजनाएं शुरू कीं. योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली उत्तर प्रदेश सरकार ने भी ऐसे बच्चों के लिए बाल सेवा योजना शुरू की थी.

कोरोना काल यानी यानी मार्च 2020 से कोरोना के कारण अपने माता-पिता या दोनों में से किसी एक को खोने वाले बच्चों के लिए यूपी सरकार ने बाल सेवा योजना शुरू की थी. सरकार का दावा है कि इस योजना के तहत अब तक 6000 बच्‍चे लाभान्वित हुए हैं. महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से 2000 और बच्‍चों को भी इस योजना के तहत चयनित किया गया है जिनको इसी माह किस्‍त दी जाएगी.

हालांकि, महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से ये नहीं बताया गया है कि इस योजना के लाभार्थियों को किस्त का भुगतान इस महीने कितनी तारीख को किया जाएगा. विभाग के मुताबिक कोरोना काल में अपने माता-पिता या दोनों में से किसी एक को खोने वाले बच्चे आवेदन कर सकते हैं.

गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन कर रहे परिवार के बच्चों के बच्चों के लिए भी यूपी सरकार की योजना से विभाग का दावा है कि करीब 20 हजार बच्चे लाभान्वित हुए हैं. बता दें कि कोरोना काल में अपने माता-पिता को खो चुके बच्चों का मसला कोर्ट भी पहुंचा था. कोर्ट ने भी सरकारों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा था कि किसी भी बच्चे की पढ़ाई में बाधा उत्पन्न न हो. साथ ही ये भी कहा था कि इन बच्चों को योजनाओं के दायरे में लाया जाए और लाभान्वित किया जाए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें