scorecardresearch
 

UP: कोरोना वायरस से जंग के खिलाफ 'SMS' के प्रति जागरूक करने के निर्देश, टेस्टिंग पर भी जोर

मुख्यमंत्री कार्यालय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल की तरफ से किए गए ट्वीट में लिखा गया है, 'SMS' कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने में अत्यन्त उपयोगी हैं. इसलिए जनता को इसे अपनाने के लिए निरन्तर जागरूक किया जाए.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो) यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • CM योगी आदित्यनाथ ने दिया 'SMS' मंत्र
  • प्रतिदिन 1.50 लाख टेस्टिंग करने के निर्देश
  • रिकवरी दर बढ़ाने के लिए बेहतर इलाज के निर्देश

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग लड़ने के लिए सीएम योगी ने 'SMS' के प्रति जागरूक करने के लिए कहा है. इसके अलावा उन्होंने फोकस टेस्टिंग पर भी जोर देने के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री कार्यालय के आधिकारिक ट्विटर हैंडल की तरफ से किए गए ट्वीट में लिखा गया है, "'SMS' कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने में अत्यन्त उपयोगी हैं. इसलिए जनता को इसे अपनाने के लिए निरन्तर जागरूक किया जाए."

दरअसल, 'SMS' में  ‘S’ का मतलब Soap/सैनिटाइजर, ‘M’ का मतलब मास्क और ‘S’ का मतलब सोशल डिस्टेंसिंग है. इसके अलावा सीएम योगी ने निर्देश दिया कि फोकस टेस्टिंग करते हुए प्रतिदिन कोविड-19 के 1.50 लाख टेस्ट किए जाएं.

देखें- आजतक LIVE TV

ट्वीट में यह भी कहा गया है कि, आगामी समय में डेंगू की संभावना के दृष्टिगत संचारी रोगों के नियंत्रण के लिए कार्रवाई तेजी से जारी रखी जाए और साथ ही सैनिटाइजेशन तथा फॉगिंग का कार्य पूरी सक्रियता से किया जाए. इसके साथ ही उन्होंने रिकवरी दर बढ़ाने के लिए उपचार व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के निर्देश दिए.

उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामलों की बात करें तो गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड-19 संक्रमित 25 और मरीजों की मौत हो गई. साथ ही सूबे में कोरोना के करीब दो हजार नए मामले सामने आए हैं. राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या 6983 हो गई है. प्रदेश में अब तक कोरोना के 4,77,895 मामले सामने आ चुके हैं. यह जानकारी गुरुवार को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने दी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें