scorecardresearch
 

UP की कानून व्यवस्था से खुश कनाडा, करना चाहता है शिक्षा में निवेश, उच्चायुक्त ने की सीएम योगी से मुलाकात

उत्तर प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा निवेश आए, इसे लेकर राज्य सरकार लगातार कोशिशें कर रही है. इसी सिलसिले में सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कनाडा के उच्चायुक्त कैमरॉन मैके से मुलाकात की. साथ ही मुख्यमंत्री ने प्रदेश स्तरीय समीक्षा बैठक भी की, जहां कई परियोजनाओं की मौजूदा स्थिति पर विचार-विमर्श किया गया.

X
योगी आदित्यनाथ और कैमरॉन मैके
योगी आदित्यनाथ और कैमरॉन मैके

उत्तर प्रदेश को निवेश और कारोबार करने के अनुकूल बनाने के लिए राज्य सरकार कई मोर्चों पर काम कर रही है. सूबे की योगी आदित्यनाथ सरकार ने वैश्विक स्तर पर निवेशकों को उत्तर प्रदेश में आमंत्रित करने के लिए ग्लोबल इंवेस्टर समिट की शुरुआत की थी और आज इसी सिलसिले में उन्होंने कनाडा के उच्चायुक्त कैमरॉन मैके के साथ बातचीत की. कनाडा के उच्चायुक्त आगामी ग्लोबल इंवेस्टर समिट को लेकर काफी उत्सुक दिखे. 

शिक्षा, लॉजिस्टिक में निवेश का इच्छुक कनाडा

कैमरॉन मैके ने कहा कि यूपी के ग्लोबल इंवेस्टर समिट में भाग लेने के लिए कनाडा काफी उत्सुक है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ मुलाकात के दौरान कई अहम मुद्दों पर चर्चा हुई. उत्तर प्रदेश और कनाडा के बीच मजबूत सांस्कृतिक, वाणिज्यिक और रणनीतिक संबंध बनाने को लेकर भी दोनों के बीच बातचीत हुई. 

यूपी की कानून व्यवस्था में सुधार से प्रभावित

कैमरॉन मैके ने कनाडा के राज्य के शिक्षा, लॉजिस्टिक और इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में निवेश करने की इच्छा जताई. कैमरॉन ने कहा कि वो यूपी के मिशन शक्ति और पुलिस सुधार से काफी प्रभावित हैं. वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस बार का ग्लोबल इंवेस्टर समिट भारत और कनाडा के आर्थिक संबंधों को नई ऊंचाई देगा.

काम शुरू होने के बाद नहीं बढ़ेगा प्रोजेक्ट का बजट

इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को प्रदेश स्तरीय समीक्षा बैठक की.  बैठक के दौरान उन्होंने परियोजनाओं के बजट का पुनरीक्षण करने पर एतराज जताया और कहा कि काम शुरू होने के बाद नहीं किसी परियोजना का बजट नहीं बढ़ेगा. वहीं उन्होंने अहम परियोजनाओं में केन्द्रीय कार्यदायी संस्थाओं को भी नामित करने पर विचार करने के निर्देश दिए हैं.

मुख्यमंत्री ने विकास परियोजनाओं की मंडलवार समीक्षा की. उन्होंने अधिकारियों से कड़े शब्दों में कहा कि जनहित के कार्यों में किसी प्रकार की लापरवाही बरदाश्त नहीं की जाएगी. ऐसा करना अक्षम्य है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें