scorecardresearch
 

'ये मजहबी मामला नहीं, न ही ये लोग मजहबी', श्रद्धा मर्डर केस पर बोले दारुल उलूम फिरंगी के प्रवक्ता

श्रद्धा मर्डर केस के मामले में आरोपी आफताब को गिरफ्तार कर दिल्ली पुलिस जांच में जुटी है तो वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर इसे लेकर कई पोस्ट वायरल हो रही हैं. इस हत्याकांड को लेकर अब दारुल उलूम फिरंगी महल लखनऊ के प्रवक्ता सूफियान निजामी ने बयान दिया है.

X
श्रद्धा की हत्या के आरोप में पुलिस की गिरफ्त में है आफताब (फाइल फोटो)
श्रद्धा की हत्या के आरोप में पुलिस की गिरफ्त में है आफताब (फाइल फोटो)

श्रद्धा मर्डर केस चर्चा में है. श्रद्धा वाल्कर की हत्या का आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को गिरफ्तार कर दिल्ली पुलिस मामले की तह तक पहुंचने की कोशिश कर रही है. वहीं दूसरी तरफ इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर भी लोग तरह-तरह की बातें कर रहे हैं. इस घटना को धार्मिक एंगल से जोड़कर भी लोग सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं.

इन सबको लेकर अब दारुल उलूम फिरंगी महल लखनऊ के प्रवक्ता सूफियान निजामी का बयान आया है. सूफियान निजामी ने हर बात को मजहब से जोड़े जाने को लेकर आपत्ति जताते हुए कहा है कि बड़े अफसोस की बात है कि कि हमारे देश में हर एक मामले को मजहबी एंगल देने की कोशिश की जाती है. भले ही वह मामला आपराधिक ही क्यों न हो.

उन्होंने कहा कि आफताब और श्रद्धा का जो मामला है, उसका मजहब से कोई लेना-देना नहीं है और ना ही ये लोग मजहबी लोग हैं जो ऐसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं. सूफियान निजामी ने कहा कि इसको जिस तरीके से सियासी फायदे के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है, यही हमारे देश की सबसे बड़ी बदकिस्मती है.

दारुल उलूम फिरंगी महल लखनऊ के प्रवक्ता ने कहा कि अखबारों में जब इस तरह की खबरें देखने को मिलती हैं कि किसी हिंदू लड़की का कत्ल एक हिंदू लड़के ने कर दिया. उन्होंने कहा कि जब किसी हिंदू लड़की के फांसी पर लटकने की खबर आती है तब इस तरह के मामलों में समाज को बांटने वाले लोगों की जुबान बंद हो जाती है.

सूफियान निजामी ने कहा कि अपराध को बस अपराध की नजर से देखने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि अपराध को मजहबी रंग सिर्फ अपना पॉलिटिकल करियर चमकाने के लिए देने की कोशिश की जाती है. गौरतलब है कि आफताब और श्रद्धा, दोनों लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे. आफताब श्रद्धा को लेकर दिल्ली आ गया था.

आफताब पर श्रद्धा की हत्या कर शव के 35 टुकड़े करने के आरोप हैं. दिल्ली पुलिस ने आफताब की निशानदेही पर दिल्ली पुलिस ने महरौली के जंगल से कुछ हड्डियां बरामद की थीं. इन हड्डियों के किसी इंसान के होने की पुष्टि विशेषज्ञों ने की है. इन्हें फोरेंसिक टेस्ट के लिए भेजा गया है. दिल्ली पुलिस ने आफताब का पॉलीग्राफ टेस्ट भी कराया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें